‘लीपापोती नहीं करें, सख्त जांच का आदेश दें नीतीश’

पटना (नियाज़ आलम) : इंटर के खराब रिज़ल्ट और उसके बाद बिहार बोर्ड के कार्यालय पर छात्रों के खिलाफ लाठी चार्ज को लेकर प्रदेश भाजपा युवा मोर्चा ने गुरुवार को गर्दनीबाग में एक दिवसीय धरने का आयोजन किया. इस अवसर पर भाजपा विधायक और युवा मोर्चा के अध्यक्ष नितिन नवीन ने कहा कि जिस तरह से रिज़ल्ट में अनियमित्ता हुई है इससे लाखों छात्रों का भविष्य अंधकार में चला गया है.

नवीन ने कहा कि मुख्यमंत्री इस मामले में लीपापोती नहीं करें बल्कि सख्त जांच के आदेश दें. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार को इसके लिए बिहार की जनता से माफी मांगनी चाहिए. युवा मोर्चा ने मांग की है कि कॉपी की बार कोडिंग में हुई गड़बड़ी की उच्च स्तरीय जांच हो. कॉपी जांच में संलिप्त अधिकारियों, कर्मचारियों और शिक्षकों पर सख्त कार्रवाई हो. 

छात्रों पर हुए लाठी चार्ज की न्यायिक जांच हो. प्रदेश प्रवक्ता संजय टाइगर ने कहा कि स्क्रूटनी  के लिए कोई शुल्क नहीं लगनी चाहिए. बता दें कि बुधवार को युवा मोर्चा ने प्रदेश कार्यालय से इनकम टैक्स गोलंबर तक मार्च कर मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री के फोटो पर कालिख पोत कर रोष प्रकट किया.

इधर, पुनर्मूल्यांकन  के लिए छात्र-छात्राओं का प्रदर्शन लगातार  दूसरे दिन भी जारी  रहा. हालांकि बोर्ड ने 3 जून से रिजल्ट से नाखुश छात्र-छात्राओं  के  लिए स्क्रूटनी  हेतु ऑनलाइन और ऑफलाइन मोड में अप्लाई  करने की अधिसूचना जारी कर दी है.

इसके अनुसार कोई भी छात्र-छात्रा प्रति विषय 120रुपये पे कर के स्क्रूटनी हेतु अप्लाई कर सकते हैं.  साथ ही दो विषयों तक के लिए कम्पार्टमेंटल परीक्षा देने की सुविधा दी गई है. लेकिन स्टूडेंट्स अभी भी नाराज चल रहे हैं.

यह भी पढ़ें-  इंटर काउंसिल में छात्रों का दूसरे दिन भी प्रदर्शन जारी, सीएम ने शिक्षा मंत्री को किया तलब