TOPPER SCAM पर बोले सीएम – नहीं बख्शे जायेंगे दोषी, पूरे सिस्टम की हो रही जांच

लाइव सिटीज डेस्क : इंटरमीडिएट के खराब रिजल्ट और टॉपर गणेश के फर्जीवाड़े मामले पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को पहली बार अपनी बात रखी. उन्होंने अपनी चुप्पी तोडद्वते हुए दो टूक कहा कि पूरे सिस्टम की जांच की जा रही है. इस मामले में दोषी और जिम्मेवार लोग नहीं बख्शे जाएंगे. साथ ही मुख्यमंत्री ने वैसे लोगों पर भी प्रहार किया, जो बिहार की छवि को बदनाम करने में लगे हैं. इसके अलावा सीएम ने कश्मीर मामले से लेकर गौरक्षा पर भी बोले.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सोमवार को लोकसंवाद कार्यक्रम के बाद पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि टॉपर गणेश के फर्जीवाड़े मामले में जिम्मेवार लोगों पर कार्रवाई की जा रही है. यह मामला उनके संज्ञान में आते ही तुरंत इसकी जांच के आदेश दिये गये. जांच में पता चला कि गणेश की उम्र ज्यादा है और वह दूसरी बार परीक्षा दे रहा है. इस पर तुरंत उसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर उनका सर्टिफिकेट रद्द किया गया. अब पुलिस इससे जुड़े लोगों को गिरफ्तार भी कर रही है.

बता दें कि दो जून को इंटरमीडिएट टॉपर मामले में गणेश की गिरफ्तारी हुई थी और तीन जून को नीतीश कुमार तमिलनाडु चले गये थे. उधर इसे लेकर विपक्ष की ओर से लगातार मुख्यमंत्री पर नीतीश कुमार पर जवाब देने का दबाव दिया जा रहा है. चार जून को तमिलनाडु से पटना लौटने के बाद सीएम ने आज इंटरमीडिएट टॉपर फर्जीवाड़े मामले में मीडिया को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि पिछले साल से सबक लेकर इस बार काफी कड़ाई की गयी. इसके बाद भी कुछ लोग धांधली करने में सफल रहे. इस पर जांच की जा रही है. जिम्मेवार लोगों पर हर हाल में कार्रवाई होगी.

इंटरमीडिएट के खराब रिजल्ट को लेकर नीतीश कुमार ने कहा कि सच में यह चिंता का विषय है कि आर्ट्स व साइंस के रिजल्ट में काफी गिरावट आयी है. कॉमर्स को छोड़ दिया जाए तो इंटरमीडिएट आर्ट्स और साइंस में लगभग 65 परसेंट बच्चे फेल कर गये. माध्यमिक व उच्च माध्यमिक शिक्षा व्यवस्था पर भी सरकार की बारीक नजर है. पूरे सिस्टम पर जांच की जा रही है. स्कूलों में पढ़ाई के अलावा एडमिशन से लेकर परीक्षा में प्रैक्टिकल के होम सेंटर बनाये जाने पर भी जांच हो रही है. सारी समस्याओं को दूर करने की लगातार कोशिश चल रही है.

सीएम ने स्पष्ट कहा कि ऐसा कोई दावा नहीं कर सकता है कि सिस्टम में कोई गड़बड़ी नहीं करेगा. हां, गड़बड़ी सामने आने पर सरकार कार्रवाई करने से पीछे नहीं हटेगी. गणेश मामले में भी पुलिस ने तुरंत कार्रवाई की है. उन्होंने कहा कि समस्या को जब तक आप पूरी तरह से नहीं समझेंगे, उसका समाधान करना मुश्किल होगा. समस्या को समझ लेंगे तो आप 90 परसेंट समाधान तुरंत कर लेंगे. मुख्यमंत्री ने कहा कि सूबे में परीक्षा व्यवस्था में काफी सुधार हुआ है. जल्द ही अन्य समस्याओं को दूर कर लिया जायेगा. स्कूल कॉलेजों की भी जांच की जा रही है कि आखिर वहां यह प्रॉब्लम क्यों आ रही है. कहां-कहां संसाधनों का अभाव है.

बिहार की छवि को लेकर भी सीएम नीतीश कुमार ने तंज कसा. उन्होंने कहा कि बिहार के बाहर व अंदर रहनेवाले कुछ बिहारी लोग ही अपने प्रदेश की छवि को बदनाम करने में लगे हुए हैं. वैसे लोगों को बस मौका मिलना चाहिए. वे लोग यह नहीं देखते हैं कि बिहार का कितना विकास हुआ है. शराबबंदी से लेकर दहेजबंदी तक पर अब बात हो रही है. दूसरे राज्यों में भी रिजल्ट खराब हो रहे हैं, लेकिन उन पर कोई नहीं बोलता है और वही लोग बिहार की छवि करने में आगे आ जाते हैं. सीएम नीतीश कुमार ने गौरक्षा पर भी कहा कि बिहार में तो वर्षों पहले से गौ हत्या पर प्रति​बंध लगा है. वहीं कश्मीर मामले पर उन्होंने कहा कि यह भारत का अभिन्न अंग है.

इसे भी पढ़ें :
TOPPER SCAM : जिस स्कूल से गणेश ने किया था मैट्रिक, वहां की प्रिंसिपल पति-बेटे संग गिरफ्तार
Topper Scam : नेताजी की फर्जी फैक्ट्री लेती थी फर्स्ट क्लास का ठेका
गजबे हैः BSEB में दो साल फेल हुआ, अब बिना पढ़े CBSE में 9.4 CGPA आ गया