‘नीतीश के चेहरे पर धब्बा हैं लालू, इसे धोना चाहिए’

पटना (नियाज़ आलम) : चारा घोटाला मामले में सुप्रीम कोर्ट से राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद को राहत नहीं मिलने के बाद से विपक्ष लगातार हमलावर है. बिहार प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि चारा घोटाले को उजागर करने वाले और इस मामले में लालू यादव को यहां तक लाने वाले नीतीश कुमार अब घोटालेबाजों के संरक्षक बन चुके हैं.

नित्यानंद ने कहा कि मुख्यमंत्री अपने चेहरे को साफ सुथरा बताते हैं, लेकिन वो अपने चेहरे को गौर से देखेंगे तो पता चलेगा की उनके चेहरे पर बदनामी का धब्बा लग चुका है. उन्हें इसे साफ करना चाहिए और ऐसे घोटालेबाजों को अपने से अलग करना चाहिए. राय ने कहा कि नीतीश कुमार को यह साबित करना चाहिए कि वो भ्रष्टाचारियों और घोटालेबाजों के साथ नहीं उनके खिलाफ हैं.

राय ने आगे कहा की चारा घोटाले ने बिहार की जनता का एक हज़ार करोड़ रुपया खाया है, अगर इन पैसों को गरीब जनता के विकास में खर्च किया जाता तो निश्चित तौर पर गरीबों के चेहरे पर मुस्कुराहट आ जाती.

इसके साथ ही उन्होंने नीतीश के एनडीए में आने पर स्वागत करने के सुशील मोदी के बयान का बचाओ किया. उन्होंने कहा की सुशील मोदी ने ऐसा नहीं कहा है. उन्होंने मीडिया पर इसका ठीकरा फोड़ते हुए कहा की कुछ पत्रकार मित्र अपने मुताबिक बयान का अर्थ निकाल लेते हैं. उन्होंने कहा कि किसी के पार्टी में शामिल होने का फैसला केंद्रीय नेतृत्व के अधिकार में है.

नीतीश चाहते हैं लालू एंड फैमिली उनके आगे घुटना टेके : सुमो
लालू को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका, चारा घोटाला में चलेगा आपराधिक मुकदमा