अगलगी वाले GV Mall में भी लालू फैमिली की संपत्ति तलाश ली सुशील मोदी ने

Lalu Prasad

पटना : आज शनिवार की सुबह पटना के बोरिंग रोड में स्थित GV Mall में भयंकर आग लगी. दर्जन भर दमकल के सहयोग से आग की लपटों पर कई घंटों बाद काबू पाया जा सका है, लेकिन धुआं अब भी है. कई प्रतिष्ठानों को करोड़ों का नुकसान होने की खबर है. लेकिन भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी की ओर से मीडिया को भेजी गई सूचना से इस मामले में आग से इतर भी मुद्दा गरमाने की उम्मीद बढ़ गई है.

बताते चलें, सुशील मोदी अभी लालू एंड फैमिली की संपत्ति की प्रत्येक कुंडली को खंगाल रहे हैं. मोदी की शिकायत पर ही पटना के बेली रोड पर लालू एंड फैमिली के बनने वाले बिहार के सबसे बड़े Delite Mall के निर्माण कार्य को तत्काल प्रभाव से रोकने का आदेश भारत सरकार के पर्यावरण व वन मंत्रालय ने जारी कर दिया है. काम बंद भी हो गया है. आगे बिना अनुमति निर्माण शुरु किये जाने के मामले की जांच होनी है.

आज सुबह जैसे ही बोरिंग रोड के GV Mall में भयंकर आग की खबर आई, उसके घंटे भर बाद ही सुशील मोदी ने मीडिया को इस बाबत दस्तावेज उपलब्ध करा दिए कि यहां भी लालू फैमिली की संपत्ति है. इस मॉल का निर्माण राजद के पूर्व मंत्री और वर्तमान विधायक श्रीनारायण यादव के बेटों ने कराया है. यादव राजद की सरकार में नगर विकास विभाग के मंत्री हुआ करते थे.

Lalu1

सुशील मोदी ने जो सबूत मीडिया को प्रेषित कराया है, उसके मुताबिक GV Mall में लालू प्रसाद की बेटी रोहिणी आचार्या के नाम की संपत्ति है. रोहिणी का एड्रेस राबड़ी देवी के नाम आवंटित 10, सर्कुलर रोड, पटना दर्ज है. इस संपत्ति की खरीदगी साल 2014 में की गई है. पहले यह सुजीत कुमार सिंघानिया के नाम था.

दस्तावेज कह रहे हैं कि रोहिणी आचार्या के नाम संपत्ति बेचने वाले सुजीत कुमार सिंघानिया बंदर बगीचा स्थित संतोषा अपार्टमेंट के फ्लैट संख्या-203 के निवासी हैं. 31 जनवरी, 2014 को सिंघानिया से रोहिणी आचार्या के नाम संपत्ति का स्थानांतरण 58 लाख 98 हजार रुपये में किया गया. मार्केट वैल्यू के आधार पर सुशील मोदी इसमें भी लोचा देखते हैं. उनके मुताबिक 96 लाख 6 हजार रुपये था.

वे पूछ रहे हैं कि मार्केट वैल्यू से कम पर रोहिणी आचार्या के नाम संपत्ति स्थानांतरित होने की क्या वजहें रही होंगी?