जमीन गिफ्ट मामले में बोलीं रमा देवी, पति ने लिखवाई थी जमीन, मैं अनजान थी

पटना (नियाज आलम) : सीबीआई रेड के बाद मालूम होता है कि सबने एक साथ आरजेडी चीफ लालू प्रसाद के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. अब लालू प्रसाद को जमीन गिफ्ट करने के मामले में भाजपा सांसद रमा देवी ने बड़ा बयान दिया है. रमा देवी के बयान के बाद एक और बखेड़ा खड़ा होने की बात कही जा रही है. उन्होंने कहा है कि जब जमीन लिखवाई गई तब मैं इन सब मामलों से अनजान थी. पति ने मुझसे जमीन लिखवा ली थी.

रमा देवी ने मीडिया को बताया कि मेरे पति(बृजबिहारी प्रसाद) ने मुझसे कहा था कि जमीन देने के बाद बिजली, पानी और सड़क समस्या खत्म हो जाएगी. जब जमीन के कागजात पर मुझसे साइन करवाया गया तब मैं हाउस वाइफ. मुझे राजनीति का कोई ज्ञान नहीं था. मुझे पता भी नहीं था कि इसके पीछे क्या मंशा थी.

उन्होंने कहा कि जब सड़क बिजली का काम नहीं हुआ तो ज़मीन को बाद में कैंसिल करवा दिया गया. रमा देवी ने ज़मीन के कागज़ात के संबंध में कहा कि यह सब काम उनके पति देखते थे और उनका देहांत हो गया. भाजपा सांसद ने कहा कि ज़मीन के कागज़ात उनके पास नहीं बल्कि लालू प्रसाद के पास हैं.

गौरतलब हो कि पिछले दिनों बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने रमा देवी से जुड़े जमीन का मामला उजागर किया था. सुशील मोदी ने आरोप लगाया था कि बृजबिहारी प्रसाद को मंत्री बनाने के एवज में रमा देवी से जमीन गिफ्ट के रूप में लिखवाई गई थी. कहा गया था कि तेजप्रताप ने रमा देवी की खूब सेवा की थी जिससे खुश होकर उन्होंने जमीन तेजप्रताप को गिफ्ट कर दी थी. खास बात यह थी कि उस समय तेजप्रताप की उम्र महज तीन साल की थी. बाद में राजद ने इसपर सफाई देते हुए कहा कि उस दान पत्र को कैंसिल कर दिया गया था. हालांकि आज के बयान रमा देवी ने कहा है कि उस जमीन के कागज मेरे पास नहीं है.

यह भी पढ़ें-
3 वर्ष की उम्र में तेजप्रताप करते थे रमा देवी की सेवा, बदले में मिल गई 13 एकड़ जमीन
नीतीश कुमार पहुंचे पटना, बढ़ाई गई सीएम आवास की सुरक्षा