राबड़ी आवास पर हलचल तेजः बैठक से पहले विधायकों ने एक सुर में कहा, तेजस्वी नहीं दें इस्तीफा

लाइव सिटीज डेस्कः राजधानी पटना के 10 सर्कुलर रोड पर राजनीतिक हलचल तेज हो चुकी है. राबड़ी आवास पर आज सोमवार को आरजेडी विधायक दल की बैठक शुरू हो चुकी है. इस बैठक में राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद के 12 ठिकानों पर हुई सीबीआई रेड और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव पर एफआईआर के मुद्दे पर चर्चा हो रही है. पार्टी विधायक निर्धारित समय से पहुंच चुके हैं. बैठक से पहले विधायकों ने एक सुर में कहा कि जब बहुमत हमारे पास है तो एेसे में उपमुख्यमंत्री तेजस्वी इस्तीफा क्यों देंगे?

आज की इस बैठक में तेजस्वी के इस्तीफे सहित कई मुद्दों पर राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद अपने पार्टी विधायकों से बातचीत कर रहे हैं और उसके बाद सबकी सहमति से ही कोई फैसला लिया जाएगा. सीबीआई एवं ईडी के छापे के बाद उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के इस्तीफे की मांग को दरकिनार करते हुए आज राजद पूरी तरह लामबंद दिख रहा है. राजद का मूड बता रहा है कि तेजस्वी के इस्तीफे के लिए बढ़ते दबाव के आगे वह नतमस्तक नहीं होने जा रहा है.

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सोमवार को राजद विधायक दल की बैठक में तीन अहम मुद्दों पर बातें होंगी. सर्वाधिक फोकस राज्य के ताजा सियासी हालात पर होगा. उसके बाद राष्ट्रपति चुनाव और सरकार की कार्यशैली पर भी सवाल-जवाब होना तय माना जा रहा है.

मिली जानकारी के मुताबिक बैठक में तेजस्वी के इस्तीफे के लिए आतुर भाजपा के दबाव की हवा निकालने की कोशिश हो सकती है. इसके साथ ही महागठबंधन के धर्मसंकट पर भी बातें होंगी. सरकार में राजद की संख्या के हिसाब से भागीदारी बढ़ाने का राजनीतिक हठ को भी प्रमुखता से प्रस्तुत किया जा सकता है.

संकेत है कि लालू के सामने सरकार में राजद की हकमारी की व्याख्या हो सकती है. संख्या के हिसाब से भागीदारी बढ़ाने का प्रस्ताव लाया जा सकता है. सीबीआई की कार्रवाई के बाद से राजद आत्ममंथन के दौर से गुजर रहा है.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अस्वस्थता के बीच जदयू की चुप्पी ने राजद की परेशानियों में और इजाफा कर दिया है. विधायक इस दर्द को सार्वजनिक रूप से प्रकट नहीं कर पा रहे हैं, लेकिन लालू के सामने बोलने में उन्हें कोई गुरेज नहीं होगी. विधायक अपनी पीड़ा अपने नेता के सामने खुलकर व्यक्त कर सकते हैं.

लालू प्रसाद के फैसले पर सबकी नजर

उधर भाजपा भगाओ रैली और राष्ट्रपति चुनाव पर मंथन के बहाने बुलाई गई विधायकों की बैठक के बाद लालू के अगले कदम का बेसब्री से इंतजार किया जा रहा है. बैठक में सभी विधायकों को अनिवार्य रूप से बुलाया गया है. ऐसे में माना जा रहा है कि ताजा राजनीतिक माहौल पर लालू अपनी पार्टी के स्टैंड का खुलासा कर सकते हैं. लालू प्रसाद के अगले कदम पर सबकी नजरें बनी हुई हैं.

यह भी पढ़ें-

नीरज सिंह हत्याकांड : बनारस में पकड़ाया चौथा शूटर चंदन, भाग गया था गुजरात

आगे कत्ल की एक नहीं, दो-दो रातें हैं बिहार के हिस्से