नीतीश के U-टर्न से विपक्षी एकता को नुकसान : शिवानंद तिवारी

shivanand-tewari2
शिवानंद तिवारी (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्क : राष्ट्रपति चुनाव को लेकर बिहार में गरमायी सियासत पर बयानों का दौर चल रहा है. महागठबंधन में आयी दरार पर वार-पलटवार की राजनीति चल रही है. कोई बिहार के सीएम नीतीश कुमार की प्रशंसा करते नहीं थक रहा, तो कोई राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के पक्ष में खड़ा नजर आ रहा है.

इसी कड़ी में अब समाजवादी नेता व पूर्व सांसद शिवानंद तिवारी ने भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि नीतीश राज्य की एक पार्टी के नेता हैं. उन्हें कोई बात कहनी है थी तो विपक्ष के फोरम पर रखते. उनके (नीतीश के) यू-टर्न से विपक्षी एकता को नुकसान पहुंचा है.

shivanand-tewari2
फाइल फोटो

शिवानंद तिवारी ने राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद और मीरा कुमार के मुद्दे पर डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव का पक्ष लेते हुए कहा कि सिर्फ हार-जीत के लिए चुनाव नहीं लड़ा जाता है. डॉ लोहिया बनाम जवाहरलाल नेहरू का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि दोनों वर्ष 1962 में फूलपुर से चुनाव लड़ रहे थे. लोहिया को पता था कि वे हार जायेंगे, लेकिन वे नेहरू को चुनौती देना चाहते थे.

बकौल शिवानंद तिवारी, लोहिया ने कहा था कि मैं पत्थर से टकरा रहा हूं. भले ही वह नहीं टूटे, लेकिन दरक भी गया तो खुद को सफल मानूंगा. इसी इलेक्शन में लोहिया ने मध्य प्रदेश के गुना से सुखोरानी मेहतरानी को महारानी विजयाराजे सिंधिया के खिलाफ खड़ा किया था. महारानी अपना पहला चुनाव कांग्रेस से लड़ रही थीं. लोहिया के साहस पर हम सबको गर्व है.

पूर्व सांसद ने कहा कि इसलिए कोई भी चुनाव हो, उसे सिर्फ हार-जीत के नजरिये से देखना सही नहीं है. हम किसका विरोध कर रहे हैं और इसका उद्देश्य क्या है, इसे भी देखना चाहिए.

बता दें कि राष्ट्रपति चुनाव पर बिहार में सियासत तेज है. लोग इस मुद्दे पर महागठबंधन को टूटते हुए भी देख रहे हैं. हालांकि यह सब बातें अभी भविष्य के गर्त में है. मालूम हो कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा था कि बिहार की बेटी को विपक्ष ने हारने के लिए खड़ा कर दिया है. इसी पर डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने पलटवार करते हुए कहा था कि हमलोग जीतने के लिए खड़ा हुए हैं. केवल मैदान में खड़ा होने से हार जीत तय नहीं होती है.

इसे भी पढ़ें :
लालू का डैमेज कंट्रोल : हटाए गए प्रवक्ता, भाई बीरेंद्र तलब
‘गठबंधन पर बोलने का हक़ सिर्फ शीर्ष नेताओं को, बाकी लोग बयानबाजी न करें’
नीतीश ने हमारे मंसूबों पर पानी फेर दिया है : रघुवंश