बोले आरसीपी सिंह : नीतीश कुमार को कोई सेक्युलरिज्म न सिखाए

नालंदा (संतोष कुमार) : महागठबंधन से अलग होकर एनडीए में शामिल हुए जनता दल यू अल्पसंख्यक मतदाताओं पर अपनी पकड़ मजबूत करने के मूड दिख रहा है. इस सिलसिले में आज रविवार को नालंदा जिला जनता दल यू अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ का सम्मेलन बिहारशरीफ में आयोजित किया गया. जिला सम्मेलन में जदयू संसदीय दल के नेता सह राज्यसभा सदस्य आरसीपी सिंह ने अल्पसंख्यकों को एकजुट रहने और किसी प्रकार का डर नहीं रखने की बात कही.

शहर के सिटी पैलेस में आयोजित जिला सम्मेलन में उन्होंने सेक्युलर शब्द की परिभाषा समझाते हुए कहा कि सेक्युलर शब्द का प्रयोग कुछ राजनेताओं द्वारा अपने मतलब के लिए करते हैं. यह शब्द आज का नहीं, बल्कि वर्षों पुराना है. कुछ लोग जानबूझकर अपना उल्लू सीधा करने के लिए सेक्युलर शब्द का इस्तेमाल करते रहते हैं. उन्होंने कहा कि यहां लोकतंत्र है. जनता द्वारा चुने गए व्यक्ति ही शासन करता है.

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जनमानस ने चुना है और वे सभी जाति धर्म के लोगों के लिए काम कर रहे हैं. उन्हें सेक्युलरिज्म समझाने की जरूरत नहीं है. उन्होंने कहा कि जब से बिहार में नीतीश सरकार की सत्ता आई है, तब से बिहार में दंगों पर लगाम लगा है. पूर्व में जहां लगातार दंगे होते थे, लेकिन दंगा पर लगाम लग चुका है. अल्पसंख्यक अपने को सुरक्षित महसूस कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि पर्व त्योहार के मौसम में कई तरह के लोग सुपारी लेकर घूमते रहते हैं और माहौल खराब करने की कोशिश करते हैं. सब लोग सचेत रहें किसी को डरने की जरूरत नहीं है.

उन्होंने कहा कि बिहार शिक्षा में काफी पिछड़ा था. खासकर मुस्लिम और दलित शिक्षा के क्षेत्र में काफी पीछे है. नीतीश कुमार की सरकार ने सबको शिक्षा से जोड़ने का काम किया मदरसा में भी बेहतर शिक्षा हो, इसकी व्यवस्था की गई. सरकार द्वारा मदरसा को मजबूत करने के लिए कदम उठाया गया. उन्होंने कहा कि बीजेपी के साथ रहने के बाद नीतीश सरकार ने 18 घोषणाएं की, जिसमें 9 घोषणाएं मुसलमान भाइयों के लिए था. उन्होंने लोगों से अपील की कि बच्चे बच्चियों को तालीम दें, ताकि वे हुनरमंद हो अपना समाज का एवं बिहार का नाम रोशन कर सकें.

आज बिहार के बच्चे चाहे किसी धर्म के हों, देश के कई भागों में उत्कृष्ट उच्च पदों पर काबिज है. उन्होंने कहा कि सामाजिक कुरीतियों को खत्म करने के लिए जनमानस का सहयोग जरूरी है. शराबबंदी पहले से लागू है. दहेज प्रथा, बाल विवाह व अंधविश्वास के खिलाफ हम सभी मिलकर लड़ाई लड़ने के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अल्पसंख्यकों के विकास के लिए चिंतित है. उनके लिए कई सारी योजनाएं चला रखी हैं. जरूरत है इन योजनाओं का लाभ लें. स्वास्थ्य शिक्षा एवं बेहतर तालीम के लिए अल्पसंख्यक समुदाय जागरूक हों.

उन्होंने कहा कि कुछ राजनीतिक दल अपने फायदे के लिए अल्पसंख्यक वोट का इस्तेमाल करते रहे हैं. मन्दिर, मस्जिद, चर्च एवं गुरुद्वारा के अफवाह में न पड़ें. सभी मिलजुल कर रहें. तभी राज्य व देश का विकास होगा. सम्मेलन में अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष मो सलाम, अंजुम आरा, जदयू के जिलाध्यक्ष बनारस प्रसाद, जिलाध्यक्ष अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ सुल्तान अंसारी, बिहार विधान सभा से जदयू के प्रत्याशी रहे मो असगर शमीम, मुन्ना सिद्दीकी, सैयद मोहसिन अली, डॉ इमामुल हक, गुलफसन जबी, डॉ विपिन कुमार यादव, नदीम जफर उर्फ गुलरेज अंसारी, बाबर मल्लिक, मो जहांगीर, मो जमील, नगर जदयू के अध्यक्ष महमूद बख्खो, वकील खान, एहसान खान, रिशु कुमार सहित अन्य लोग मौजूद थे.

यह भी पढ़ें- गिरिराज सिंह का बड़ा हमला, पापड़ पहलवान हैं लालू प्रसाद 
मोदी नहीं बिहार भाजपा के नेताओं से खफा हैं अनंत सिंहचपरासी दे गया था कार्ड
कब तक रहेंगे किराये में : कीमतें बढ़ने के पहले खरीदें 9 लाख का फ्लैट, ऑफर में Gold Coin भी
iPhone 8 पटना को सबसे पहले गिफ्ट करेगा चांद बिहारी ज्वैलर्स, सोने के सिक्के तो फ्री हैं ही
धनतेरस पर बेस्ट आॅफर दे रहे हैं हीरा-पन्ना ज्वैलर्स, Turkish जूलरी के साथ Gold Coin भी फ्री
स्मार्ट बनिए आ रही DIWALI में, अपने Love Bird को दीजिए Diamond Jewelry
अभी फैशन में है Indo-Western लुक की जूलरी, नया कलेक्शन लाए हैं चांद बिहारी ज्वैलर्स
PUJA का सबसे HOT OFFER, यहां कुछ भी खरीदें, मुफ्त में मिलेगा GOLD COIN
RING और EARRINGS की सबसे लेटेस्ट रेंज लीजिए चांद​ बिहारी ज्वैलर्स में, प्राइस 8000 से शुरू

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)