GST पर सुशील मोदी ने व्यापरियों को दिया भरोसा, कहा- सब ठीक हो जायेगा

लाइव सिटीज डेस्क : जीएसटी को लेकर चारों ओर से घिरी केंद्र सरकार के बीच बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने व्यापारियों के साथ बैठक की. बुधवार को पटना में हुई बैठक में उन्होंने व्यापारियों को आश्वासन दिया कि आनेवाले दिनों में यह सबके लिए ठीक होगा. इसके अलावा उन्होंने व्यापारियों की भी समस्याएं सुनीं.

हालांकि बैठक में डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने माना कि जहां जीएसटी लागू होने के पहले माह जुलाई में 72 परसेंट व्यापारियों ने इनकम टैक्स का रिटर्न दाखिल किया था, वहीं सितंबर में घट कर यह 41 परसेंट रह गया है. मौके पर मौजूद व्यापारियों को उन्होंने आश्वासन दिया कि जीएसटी में जो भी प्रॉब्लम आ रही हैं, वह क्षणिक है. देश के साथ ही पटना में भी जीएसटी नेटवर्क में आ रही प्रॉब्लम को दुरुस्त किया जा रहा है.

बैठक में डिप्टी सीएम ने बिहार के सभी जिलों से आयो व्यापारियों में से दो-दो लोगों से बात की. उनकी राय जानी तथा उनकी प्रॉब्लम से रूबरू हुए. इसके अलावा मोदी ने विभिन्न उद्यमी संगठनों के 100 से अधिक प्रतिनिधियों से बात की. बताया जाता है कि बिहार के 1.75 लाख टैक्सपेयी में से जुलाई में 1.35 लाख ने रिटर्न दाखिल किए, जो 72 परसेंट होता है. लेकिन इसके बाद इसमें गिरावट आने लगी. अगस्त में यह घटकर 55 परसेंट तथा सितंबर में 41 परसेंट हो गया. वहीं अक्टूबर का डाटा अभी डिक्लियर नहीं हुआ है.

डिप्टी सीएम ने व्यापारियों को यह भी भरेसा दिया है कि कम्पोजिट स्कीम के तहत टर्न ओवर की सीमा डेढ़ करोड़ की जा सकती है. वहीं डेढ़ करोड़ तक एडवांस रिसीट पर बिक्री के समय ही टैक्स देना होगा. उन्होंने सह भी कहा कि फिलहाल 2018 के मार्च तक रिवर्स चार्ज मैकेनिज्म को कैंसिल कर दिया गया है. गौरतलब है कि जीएसटी को लेकर विपक्ष तो हमलावर बना हुआ ही है, वहीं सत्ता पक्ष के भी कुछ नेता केंद्र सरकार को घेर रहे हैं. इसे लेकर केंद्र को भी बार बार सफाई देने में लगा हुआ है.