जदयू का पलटवार – बीजेपी झूठ की खेती करने में माहिर, केंद्र के पास कोई रणनीति नहीं

SANJAY-JDU2
फाइल फोटो

पटना (नियाज़ आलम) : विकास के मुद्दे पर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय द्वारा बिहार सरकार पर लगाए आरोपों पर जदयू ने पलटवार किया है. पार्टी के मुख्य प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा है कि भाजपा झूठ की खेती करने में माहिर है. केन्द्र सरकार तीन साल में एक भी ढंग की नीति नही बना पाई है.

कार्रवाई से घबड़ा गए हैं लालू, अब जान गए होंगे 22 ठिकाने – सुमो

नित्यानंद बोले – नमो का मतलब गरीबों का मसीहा

उन्होंने कहा कि जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बारृ-बार कहा है कि राज्यों की असमानता दूर करने को तीन स्तरीय लघु, मध्यम और दीर्घकालीन रणनीति बननी चाहिए. ये असमानता के स्तर पर आधारित हों. सतत विकास के लक्ष्य की प्राप्ति के लिए यह आवश्यक है. देश की आजादी के बाद कई राज्यों का तेजी से विकास हुआ तो कई अन्य अभाव से ग्रसित रहे. वित्त आयोग की अनुशंसाएं और केंद्र की नीतियां भी राज्यों के बीच के इस अंतर को पाटने में असफल रही हैं. देश में विकास के टापू बन गये हैं. उन्होंने कहा कि भाजपा नेता बड़ी बड़ी बातें कर अपने तीन साल की उपलब्धियों का जश्न मना रहे है लेकिन देश के विकास की कोई रणनीति नही है.

SANJAY-JDU2
फाइल फोटो

संजय सिंह ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आरा के रमना मैदान से बिहार के लिए सवा सौ करोड़ के विशेष पैकेज की घोषणा तो कर दी लेकिन अब तक उस राशि से क्या हुआ ये नही बताया. वही 14वें वित्त आयोग द्वारा राज्यों को दिये जाने वाले हिस्से को 32% से बढ़ा कर 42% किये जाने को आधार बनाकर केंद्र प्रायोजित योजनाओं में राज्यों को दी जाने वाली राशि काफी कम कर दी गई. इसका बिहार पर बहुत प्रतिकूल प्रभाव पड़ा.

जदयू नेता ने आंकड़ों के हवाले से बताया कि 2015-16 में बिहार के लिए केंद्र प्रायोजित योजनाओं में केंद्रांश की अनुमोदित राशि 23988 करोड़ थी, जबकि प्राप्त हुआ सिर्फ 15932 करोड़. 2016-17 में इसी मद में 28777 करोड़ स्वीकृत थे, जिनमें मात्र 17143 करोड़ मिले. दो वर्षों में 19690 करोड़ कम मिले. 14वें वित्त आयोग के फॉर्मूले को लागू करने के बाद केंद्रीय करों में हिस्सेदारी के रूप में बिहार की वृद्धि केवल 17% की हुई है, जबकि अन्य राज्यों की संयुक्त हिस्सेदारी में वृद्धि 35% की रही है. नये फॉर्मूले से कुल राशि में बिहार का हिस्सा 10.9% से घटकर 9.66% हो गया है. जदयू प्रवक्ता ने कहा कि केंद्र सरकार बिहार को कोई खैरात नही दे रही है, बल्कि बिहार का वाजिब हक देने में भी कोताही कर रही है.

मोदी सरकार हर मोर्चे पर केवल नाकाम हुई है : निषाद

जदयू के प्रदेश प्रवक्ता अरविन्द निषाद ने कहा है कि भाजपा केवल जुमले की सरकार है. उसका हर वादा केवल जुमला ही होता है जिसका वास्तविकता से दूर दूर का कोई नाता नहीं होता. निषाद ने कहा है कि तीन वर्ष के कार्यकाल में मोदी सरकार हर मोर्चे पर केवल नाकाम हुई है और मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए नए नए फरेब गढ़ती रही है. उन्होंने कहा कि नोटबंदी भी उन्हीं में से एक है.

nishad

निषाद ने कहा कि प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय के मुताबिक नोटबंदी से गरीबों को आर्थिक आज़ादी मिली, लेकिन उन्होंने यह नहीं बताया कि देश भर में एटीएम की लाइन में लगे कितने गरीबों की मौत हो गई. नोटबंदी के कारण कितने गरीबों के घर में चूल्हा नहीं जला. कितने बच्चों के नाम स्कूल से काट दिए गए. निषाद ने कहा कि जब नोटबंदी का फैसला नाकाम नजर आने लगा तो भाजपा ने कैशलेस ट्रांज़ैक्शन के फायदे गिनवाने शुरु कर दिए. दरअसल भाजपा और मोदी सरकार भी नोटबंदी के गलत फैसले को समझ गई थी लेकिन अपने उद्योगपति दोस्तों को फायदा पहुंचाने के लिए तमाम हथकंडे अपनाते रहे.

इसे भी पढ़ें –

जदयू : क्या भाजपा कार्यकर्ताओं के बच्चों को सरकारी नौकरी मिल रही है?

हरनौत में आग का गोला बनी बस, 10 लोग जिन्दा जले !