‘कानून-व्यवस्था की बहाली पर ध्यान दें नीतीश, नहीं तो राज्यभर में आंदोलन करेगी जलोपा’

पटना: जनतांत्रिक लोकहित पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अनिल कुमार ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हिटलरशाही से शासन चलाने का आरोप लगाया है. उन्होंने रविवार को कहा कि जिस तरह से राज्य में कानून व्यवस्था की हालत हो गयी है, उससे लोगों में भय की स्थिति है. कुमार ने कहा कि राज्य में शराबबंदी के नाम पर पूरे प्रशासन को लगा दिया गया है और राज्य की कानून-व्यवस्था भगवान भरोसे छोड़ दिया है.

अनिल कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री को सिर्फ शराब दिख रहा है और शराब की बिक्री थाने में हो रही है. राज्यभर में लूट, हत्या, चोरी, बलात्कर जैसी घटनाएं आये दिन घट रही हैं, मगर मुख्यमंत्री जी इन सब से इतर शराबबंदी का घिसा-पिटा रिकॉर्ड बजा रहे हैं. उनके तथाकथित सुशासन में अपराधी दिन – दहाड़े ऐसी घटना को अंजाम दे रहे हैं और इनकी पुलिस शराबबंदी के नाम पर मस्त है.

तभी तो राजधानी पटना में पूर्व मंत्री की पत्नी का चैन छीन लिया जाता है. इतना ही नहीं, पिछले दिनों भभुआ में जदयू नेता के पेट्रोल पंप से 5 लाख रुपये लूट लिए गए. वहीं बेगूसराय में भी अपराधियों ने पेट्रोल पंप को लूट लिया.

कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री जी बताएं कि आपका ये कैसा सुशासन हैं, जहां कानून व्यवस्था का इक़बाल खत्म हो गया है. अब तो अपराधियों के बढ़ते मनोबल और प्रशासनिक कार्यों में आपराधिक छवि के लोगों के हस्तक्षेप के कारण प्रशासनिक अधिकारियों का मनोबल गिरा है. ऐसे में कैसे राज्य के लोग सुरक्षित रह सकते हैं. क्या आपको इसी दिन के लिए लोगों ने चुना था. आपने झांसे में ना आने की बात कही थी, मगर अब तो लगता है है कि आपने ही सत्ता के लिए राज्य की जनता को झांसा दिया है.

कुमार ने मुख्यमंत्री से राज्य की बदहाल कानून-व्यवस्था को दुरुस्त करने का आग्रह करते हुए कहा कि अगर ऐसा नही हुआ तो राज्य की जनता को घर से बाहर निकलना भी मुश्किल हो जाएगा. इसलिए सिर्फ शराबबंदी के नाम पर अपना चेहरा चमकने के बजाय राज्य में कानून व्यवस्था बहल हो.

अगर ऐसा नहीं हुआ तो जनहित लोकतांत्रिक पार्टी राज्यभर में चरणबद्ध आंदोलन करेगी.