कैंसर, किडनी, ब्रेन ट्यूमर जैसी बीमारियों का इलाज फ्री में कराये सरकार

pappu

नई दिल्ली : लोकसभा में आज बुधवार को बिहार के मधेपुरा के सांसद राजेश रंजन उर्फ़ पप्पू यादव खूब बोले हैं. उन्होंने कहा है कि अब बिहार और केंद्र दोनों में NDA की सरकार है, तो विकास भी तेज होना चाहिए. केंद्र न भूले, बात विशेष राज्य के दर्जे की हुई थी. लेकिन बिहार की जरूरतों को देखकर हमारी मांग है कि बिहार का डेवलपमेंट प्लान बिहार को तीन हिस्सों कोशी-सीमांचल-मिथिलांचल, मगध और भागलपुर में बांट कर तैयार किया जाना चाहिए. सभी हिस्सों को विशेष पॅकेज मिले.

श्री यादव ने कहा कि बिहार में कोई इंडस्ट्री नहीं है. जो थे, वे झारखण्ड में चले गए. ऐसे में बिहार में कृषि आधारित उद्योगों का संजाल केंद्र को बिछाना चाहिए. पशुपालन और मतस्य पालन का भी बिहार में बड़ा स्कोप है. इस इंडस्ट्री को डेवलप किये बगैर बिहार की तरक्की नहीं हो सकती. लोग ऐसे ही आर्सेनिक और आयरन का पानी पीने को विवश हैं.

pappu

गंभीर रोगों का सरकारी खर्चे पर हो इलाज

पप्पू ने कहा कि स्वास्थ्य सुविधाओं पर सरकार को ध्यान बढ़ाना होगा. फाइव स्टार होटल वाले अस्पतालों से आम आदमी का इलाज नहीं हो सकता. वे तो बिना इलाज के मर जाते हैं. सरकार सभी तरीके की मेडिकल जांच को अपने हाथों ले. पंचायत स्तर पर जांच की सुविधा हो. दर निर्धारित हो. साथ में, जो कैंसर, ब्रेन ट्यूमर और हार्ट जैसी गंभीर बिमारियों से परेशान हैं, उनका इलाज अस्पतालों में पूर्ण तौर पर सरकारी खर्च पर हो. इलाज के अभाव में कोई मरे नहीं, यह सुनिश्चित करना सरकार का दायित्व है.

कोचिंग संस्थानों को बंद कर दें

मधेपुरा सांसद ने कहा कि देश की सरकार की शिक्षा व्यवस्था को कोचिंग संस्थानों ने बर्बाद किया है. सरकारी स्कूलों में पढ़ाई ख़त्म हो गई है, बिहार इसका गवाह है. केंद्र को भारत की शिक्षा व्यवस्था का मानक जीडीपी भी डेवलप करना होगा. कोचिंग संस्थानों को बंद किये बगैर सरकारी स्कूल नहीं सुधरेंगे. एजुकेशन फॉर आल की परिकल्पना को पूर्ण करने के लिए कॉमन एजुकेशन सिस्टम को लागू करना ही होगा. बिहार के हर जिले में नवोदय स्कूल और सेंट्रल स्कूल खुलें. देश को देखना होगा कि गरीब का बच्चा आखिर 8-9 साल की उम्र में फैक्ट्रियों में काम करने क्यों चला जाता है.

यह भी पढ़ें –

AK-47 लिए महिला पुलिस अब पटना की सड़कों पर, बात से नहीं मानोगे तो गोली चला देगी

EXCLUSIVE : जानिए, कौन हैं वे 9 लोग, जो सबसे पहले पढ़ लेते हैं नीतीश के मन को

‘आपकी चिंता है नीतीश जी, भाजपा 2013 का बदला जरुर लेगी’

मंत्रियों के साथ हाई लेवल मीटिंग में सीएम नीतीश ने दिए ताबड़तोड़ कई निर्देश