युवा संसद में पप्‍पू की हुंकार – व्‍यवस्‍था बदलना युवाओं के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती

pappu2

पटना : जन अधिकार पार्टी (लो) के संरक्षक और सांसद पप्‍पू यादव ने कहा है कि युवाओं को समय की चुनौतियों को स्‍वीकार करना चाहिए. पटना के ज्ञान भवन में आयोजित पाटलिपुत्र राष्‍ट्रीय युवा संवाद को संबोधित करते हुए उन्‍होंने कहा कि व्‍यवस्‍था बदलना युवाओं के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती है. जब तक व्‍यवस्‍था नहीं बदलेगी, तब तक देश और समाज का न‍वनिर्माण संभव नहीं है.



सांसद पप्‍पू यादव ने कहा कि शिक्षा और टेक्‍नोलॉजी ने महिलाओं को स्‍वावलंबी बनाया है. इसके कारण समाज में महिलाओं का सम्‍मान बढ़ा है. उनका परिवार में महत्‍व बढ़ा है. उन्‍होंने कहा कि समाज में वही बदलाव ला सकता है, जो बुराई मिटाने की क्षमता रखता हो और अच्‍छाई के साथ खड़े होने का साहस रखता हो. लेकिन आज के युवाओं में दोनों ही प्रकार की प्रवृत्तियों का अभाव है.

pappu3

सांसद ने कहा कि भारत में व्‍यावहारिकता पर कम और दार्शनिकता पर अधिक जोर दिया जाता है. जबकि युवाओं को व्‍यावहारिक सोच और समझ विकसित करना चाहिए. हर कार्य को कल पर टालने की आदत का त्‍याग कर आज का काम आज संपन्‍न करना चाहिए.

संवाद के दौरान प्रतिभागियों के सवालों का जवाब देते हुए यादव ने कहा कि भ्रष्‍टाचार के आधार पर खड़ा कोई भी तंत्र ईमानदार व्‍यवस्‍था को जन्‍म दे सकता है. आज भ्रष्‍टाचार मिटाने के लिए कोई आगे नहीं आ रहा है. शिक्षा माफिया, मेडिकल माफिया के खिलाफ लड़ने के लिए कोई आगे नहीं आ रहा है. भ्रष्‍टाचार मिट जाए तो 80 फीसदी समस्‍याएं अपने आप हल हो जाएं. उन्‍होंने कहा कि कृषि आधारित अर्थव्‍यवस्‍था को मजबूत करने के लिए सहकारिता सबसे मजबूत हथियार हो सकता है.

सांसद ने युवाओं से देश के विकास में सहयोग करने की अपील की और देश के नवनिर्माण में भागीदार बनने का आग्रह भी किया.