नीतीश जा रहे राजभवन, बड़े फैसले की उम्मीद!

लाइव सिटीज डेस्क:  दिन भर चली राजनीतिक सरगर्मी और बयानबाजी के बाद शाम को सियासत का रुख एकदम से पलट गया. जब सीएम नीतीश कुमार ने राजभवन जाने का फैसला लिया. विधायक दल की बैठक से निकलते ही ये कानाफूसी तेज हो गई थी कि नीतीश कुछ बड़ा कदम उठा सकते हैं. लेकिन वह कदम क्या है ये अभी भी नीतीश कुमार के मन में ही है. विधायक मीडिया से बचते नजर आए. लेकिन उनकी इस हलचल के दूरगामी परिणाम होने की उम्मीद है.

बता दें कि गुरुवार को मीडिया से बातचीत करने के दौरान राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने कहा था कि उनकी नीतीश कुमार से बातचीत होती रहती है और अब सब कुछ ठीक है. महागठबंधन में अनबन की खबर मीडिया की शरारत है. तेजस्वी इस्तीफा नहीं देंगे.’ इसी बयान के ठीक बाद डिप्टी सीएम तेजस्वी प्रसाद यादव ने भी पहली बार लालू प्रसाद के सुर में सुर मिलाया था. उन्होंने साफ कहा कि इस्तीफे या बर्खास्तगी का सवाल ही पैदा नहीं होता है. हमसे किसी ने इस्तीफा मांगा भी नहीं है. रही बात सफाई की तो वह हम जनता के बीच में जाकर दे देंगे.’

मीडिया रिपोर्ट कहती हैं कि नीतीश कुमार की लाइन के विरुद्ध दिए गए इन बयानों से नीतीश कुमार सहमत नहीं हैं. वह कोई बड़ा फैसला कभी भी ले सकते हैं. बता दें कि बेनामी संपत्ति के मामले में लालू परिवार का नाम आने के बाद से महागठबंधन में तनाव है. राजद—जदयू के रिश्तों में लगातार तल्खी बरकरार है. दोनों दलों के नेता न सिर्फ एक—दूसरे पर हमलावर हैं बल्कि बयान भी दे रहे हैं. ऐसे में देखना है कि नीतीश कुमार जब राजभवन से निकलेंगे तो सियासत का रुख किस तरफ मुड़ा हुआ होगा.