देश के 14वें राष्ट्रपति बने रामनाथ कोविंद, 65.65% मतों से जीत दर्ज…

लाइव सिटीज डेस्क : जैसा अनुमान था वैसा ही हुआ. रामनाथ कोविन्द देश के 14वें महामहिम राष्ट्रपति का चुनाव जीत चुके हैं. वह देश में सत्तारूढ़ एनडीए की तरफ से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार थे. उनके विपक्ष में चुनाव लड़ने वाली यूपीए से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार मीरा कुमार के अलावा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी उन्हें जीत की बधाई दी है. बता दें कि राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बनने से पहले रामनाथ कोविन्द बिहार के राज्यपाल थे. अब वह 25 जुलाई को राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे.

गुरुवार की सुबह 11 बजे राष्ट्रपति पद के चुनाव के लिए वोटों की गिनती का काम शुरू हुआ था. वोटों की गिनती संसद भवन के कमरा नं. 62 में चल रही थी. पहले राउण्ड की गिनती से ही रामनाथ कोविन्द विपक्ष की उम्मीदवार मीरा कुमार पर निर्णायक बढ़त लेते दिखे. पहले ही राउण्ड में कोविन्द को 221 वोट मिल चुके थे जबकि मीरा कुमार को महज 134 वोट मिले थे. इसके बाद रामनाथ कोविन्द तेजी से जीत की ओर आगे बढ़ते दिखाई दिए. किसी भी राउण्ड में मीरा कुमार उनके आसपास भी नहीं दिखाई दीं.

चुनाव में निर्वाचन में संसद के दोनों सदस्यों के मत का कुल मूल्य 5,49,408 है तो सभी राज्यों के विधायकों का मत मूल्य 5,49,495 है. इस तरह कुल मतों का मूल्य 10,98,903 है. गौरतलब है कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान गत 17 जुलाई को हुआ था. मौजूदा राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है. राष्ट्रपति चुनाव में रामनाथ कोविन्द को 65.65 प्रतिशत वोट मिले हैं. रामनाथ कोविंद को कुल 7,02,044 वोट मिले, वहीं मीरा कुमार को 3,67,314 वोटों पर ही संतोष करना पड़ा. गौरतलब है कि 2012 के राष्ट्रपति चुनाव में प्रवण मुखर्जी को 7,13,763 और विपक्षी उम्मीदवार पीए संगमा को 3,15,987 वोट मिले थे.

राज्यों की लिस्ट –

गोवा – रामनाथ कोविंद 25, मीरा कुमार 11

गुजरात – रामनाथ कोविंद 132, मीरा कुमार 49

हरियाणा – रामनाथ कोविंद 73, मीरा कुमार 16

हिमाचल प्रदेश – रामनाथ कोविंद 13, मीरा कुमार 37

जम्मू-कश्मीर – रामनाथ कोविंद 56, मीरा कुमार 30

झारखंड – रामनाथ कोविंद 51, मीरा कुमार 26

आंध्र प्रदेश – रामनाथ कोविंद 27,189 वोट मीरा कुमार 0

अरुणाचल प्रदेश – रामनाथ कोविंद 448, मीरा कुमार 24

असम – रामनाथ कोविंद 10,556, मीरा कुमार 460

बिहार – रामनाथ कोविंद 22490, मीरा कुमार 18867

‘मीरा कुमार के घर भी बंटी मिठाई’

मीरा कुमार के घर पहुंचे पत्रकारों को उनके स्टाफ की तरफ से मिठाई बांटी गई. मीरा कुमार ने कहा कि आप हमारे घर आए हैं, इसलिए मिठाई खिलाना जरुरी है. हमने पूरी निष्ठा के साथ चुनाव लड़ा है, हमने लड़ाई की मर्यादा निभाई है. मीरा कुमार बोलीं कि देश के अधिकांश लोगों की आवाज को हमने इस चुनाव में बुलंद किया. हम लोग विचारधारा की लड़ाई लड़ रहे हैं. मीरा कुमार ने कहा कि ये गुप्त वोटिंग है हर किसी को अपना वोट डालने का अधिकार है, इसमें मैं कुछ टिप्पणी नहीं करना चाहती हूं. उन्होंने कहा कि जैसा कोई आम दिन होता है, वैसा ही आज का दिन है मेरे शेड्यूल में कोई भी बदलाव नहीं आया है.

8 राउंड में हुई गिनती

राष्ट्रपति के चुनाव में लोकसभा और राज्यसभा के सांसद और विधान सभा के सदस्य मतदान करते हैं. एमएलसी यानी विधान परिषद के सदस्य राष्ट्रपति के चुनाव में मतदान नहीं करते. राज्यों का बक्सा अल्फाबेटिकल ऑर्डर पर खोला गया था. जबकि वोटों के गिनती चार अलग अलग टेबल पर हुई है.

राष्ट्रपति चुनाव में हुई थी 99% वोटिंग

सोमवार को हुई वोटिंग में 99% वोटिंग हुई थी, रिटर्निंग अधिकारी अनूप मिश्रा ने बताया कि यह अब तक की सबसे ज्यादा वोटिंग है. अभी लोकसभा (543) और राज्यसभा (233) में कुल 776 सांसद हैं. दोनों लोकसभा और राज्यसभा से दो-दो सीट खाली हैं. बिहार के सासाराम से बीजेपी के सांसद छेदी पासवान के पास वोटिंग का अधिकार नहीं था, इस तरह 771 सांसदों को वोट डालना था, लेकिन 768 सांसदों ने ही वोटिंग की. टीएमसी के तापस पाल, बीजेडी के रामचंद्र हंसदह और पीएमके के अंबुमणि रामदौस ने वोट नहीं डाले, ये सभी लोकसभा सांसद हैं. दोनों सदनों में 99.61% वोटिंग हुई. देश की 31 विधानसभाओं के 4120 एमएलए में से 10 सीट खाली हैं और एक विधायक अयोग्य है. इस तरह 4,109 विधायकों को वोट डालना था, लेकिन 4,083 ने वोटिंग की यानि, कुल 99.37% वोटिंग हुई.