भाई वीरेन्द्र बोले – नीतीश कुमार ने महागठबंधन को दिखाया अंगूठा

bhai-virendra
राजद विधायक भाई वीरेन्द्र (फाइल फोटो)

पटना : राजद विधायक और अपने बयानों के लिए हमेशा चर्चा में रहने वाले भाई वीरेन्द्र ने एक बार फिर जदयू के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. राष्ट्रपति चुनाव पर जदयू का अपना स्टैंड साफ़ करने के बाद भाई वीरेन्द्र ने पार्टी के फैसले पर सवाल उठाया है. बता दें कि एनडीए की ओर से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बिहार के पूर्व राज्यपाल रामनाथ कोविंद को जदयू ने अपना समर्थन दे दिया है.

जदयू के इस फैसले पर मनेर से राजद के विधायक भाई वीरेन्द्र ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताया है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ऐसा करके महागठबंधन को अंगूठा दिखा दिया है. इससे पहले राजद के ही वरिष्ठ नेता अब्दुल बारी सिद्दिकी ने इसपर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए तंज कसने के अंदाज में इस फैसले को ‘बड़े लोगों की बड़ी बातें’ बताया था. उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति उम्मीदवार पर वैसे तो कोई भी फैसला राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद ही करेंगे, लेकिन रामनाथ कोविंद की शख्सियत बहुत अच्छी रही है.

bhai-virendra

गौरतलब है कि राष्ट्रपति पद के चुनाव में विपक्ष की मुहिम से अलग जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष व मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अलग राह ले ली है. उन्होंने पहले ही बिहार के पूर्व राज्यपाल रामनाथ कोविंद को अपना समर्थन दे दिया था. आज बुधवार को पार्टी के सभी सांसदों और विधायकों की बैठक के बाद इस निर्णय पर पार्टी ने आधिकारिक रूप से मुहर भी लगा दी है.

वहीँ राजद विधायक भाई वीरेन्द्र भी अपने अलग तेवर के लिए जाने जाते हैं. पिछले कई मौकों पर वो ऐसे बयान देते रहे हैं जिससे महागठबंधन में असहज स्थिति पैदा हो जा रही है. हाल में ही उन्होंने इंटर के रिजल्ट पर भी बिहार सरकार को घेरा था. भाई वीरेंद्र ने इंटर के कॉपी जांचने वाले शिक्षकों पर ही सवाल खड़ा करते हुए कहा था कि जिन शिक्षको से कॉपी जांच कराई गई है उन्हें उनकी मेरिट पर शक है.

यह भी पढ़ें –
रामनाथ कोविंद को मिला नीतीश का साथ, विपक्षी दलों की बैठक से जदयू का किनारा
राष्ट्रपति चुनाव में रामनाथ कोविंद को वोट करेंगे सांसद पप्पू यादव