संजय सिंह – अमित शाह के खिलाफ सीबीआई ने अपील क्यों नही की?

पटना : जदयू पार्षद व प्रवक्ता संजय सिंह ने केंद्र सरकार के 3 साल के कार्यकाल को नाकाम बताते हुए कहा है कि नौजवान नौकरी ढूंढने के लिए संघर्ष कर रहे हैं, किसान आत्महत्या कर रहे हैं और बॉर्डर पर जवान मर रहे हैं.

केंद्र सरकार किस बात का जश्न मना रही है? उन्होंने कहा कि इन तीन सालों में ‘वादाखिलाफी’ और ‘अकर्मण्यता’ के सिवाए कुछ नहीं हुआ है.

जदयू नेता ने कहा कि किसानों के खुदकुशी के मुद्दे और बढ़ती बेरोजगारी के मुद्दे पर बीजेपी के नेता कुछ नही बोलते है. पिछले तीन सालों में जनादेश के साथ धोखा हुआ है जिसके दम पर बीजेपी सत्ता में आई थी. सुशील मोदी कह रह है कि देश में अच्छे दिन का आगाज हो गया? तो चश्मा बदलें सुशील मोदी.

संजय सिंह ने कहा कि सुशील मोदी आज जो सवाल पुछ रहे हैं उसका जबाब न्यायालय के पास है और न्यायालय से उपर कोई नही है. लेकिन कुछ सवाल सुशील मोदी और बीजेपी से जनता पूछ रही है उसका जबाब सुशील मोदी दें –

1. सुशील मोदी बताएंगे कि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के केस के खिलाफ सीबीआई ने अपील क्यों नही की?
2. सुशील मोदी जी, क्या ये सच नही है कि आप पप्पु यादव के लिए पैरवी करने गृह मंत्रालय गए थे और सीबीआई को सुप्रीम कोर्ट जाने से रोका गया था?
3. क्या ये सच नही है कि झारखंड में राज्यसभा चुनाव के दौरान वोट के बदले गीता कोड़ा और एनोस एक्का पर से ईडी और सीबीआई जांच को रोक दिया गया था?
4. क्या अमित शाह से भी कोई बड़ा अपराधी होगा. यदुरप्पा जैसे लोगो की पहचान किस रुप में होती है, केंद्र सरकार ने इनपर क्या कार्रवाई की?
5. क्या भाजपा ने जिनके बदौलत देश में सरकार बनाई है उन 282 सांसदों में 98 पर गंभीर अपराधिक मामले नहीं है? उन सांसदों पर हत्या, बलात्कार जैसे संगीन आरोप हैं. 20 केंद्रीय मंत्रियों पर अपराध के गंभीर आरोप हैं.

 

इसे भी पढ़ें –

‘प्रभुनाथ पर बोलते हैं ; अनंत,सूरजभान,रामा पर क्‍यों चुप रह जाते हैं मोदी’

तेजस्वी का हमला – बड़े नेता हैं तो पहले अपने 3 सांसदों के आरोपों का जवाब दें सुशील मोदी