नीतीश के शपथ ग्रहण से पहले कमरे में कैद हुए शरद यादव…

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार की सियासत तेजी से हर पल बदल रही है. नीतीश कुमार के इस्तीफे से शुरू हुआ हाईप्रोफाइल ड्रामा अभी तक जारी है. ताजी खबर दिल्ली से आ रही है. जदयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव नीतीश के इस्तीफे से नाराज बताए जा रहे हैं. उनकी नाराजगी की तस्दीक तो लालू प्रसाद ने रात में ही कर दी थी. उनकी नाराजगी इसी बात पर थी कि नीतीश कुमार महागठबंधन क्यों तोड़ रहे हैं? सुबह फिर से उनकी नाराजगी का नया रंग दिखा जब शरद यादव ने खुद को कमरे में बंद कर लिया.

जदयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव ने नीतीश कुमार के शपथ ग्रहण से पहले खुद को दिल्ली स्थित अपने घर में कैद कर लिया है. घर के चारों तरफ पहरा बढ़ा दिया गया है. उनके घर में प्रवेश की अनुमति किसी भी मीडियाकर्मी को नहीं दी जा रही है.

शरद यादव की इस चुप्पी के कई सियासी मायने लगाए जा रहे हैं. वहीं जदयू के राज्यसभा सांसद अली अनवर ने भी बयान दिया था कि वह नीतीश के फैसले से खुश नहीं है. वह कभी भी बीजेपी के साथ जाना पसंद नहीं करेंगे.

दरअसल नीतीश कुमार के इस्तीफे के बाद जब लालू प्रसाद सामने आए तो उन्होंने नीतीश कुमार पर चुन—चुनकर निशाना साधा. अपनी नाराजगी को शब्दों में बांधने की कोशिश कर रहे लालू प्रसाद ने कहा था कि ‘नीतीश कुमार के इस्तीफे से जदयू के कई विधायक और शरद यादव भी नाराज हैं. शरद यादव ने उनसे फोन पर बात भी की है.’ लेकिन बात क्या हुई है, इस पर लालू प्रसाद चुप रह गए थे. अब उनकी चुप्पी के सियासी मायने क्या हैं? ये वक्त पर ही छोड़ देना बेहतर होगा.