सुशील मोदी का आरोप : आवंटित प्लाट का व्यावसायिक इस्तेमाल कर लाखों कमा रहे लालू

sushil-kumar-modi-

पटना : भारतीय जनता पार्टी नेता सुशील मोदी ने बुधवार को एक बार फिर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद पर बड़ा आरोप लगाया है. उन्होंने कहा है कि लालू प्रसाद समेत दर्जनों लोग सांसद-विधायक सहकारी समिति से आवंटित आवासीय प्लाट का व्यावसायिक दोहन कर रहे हैं. मोदी ने यह आरोप भी लगाया है कि लालू प्रसाद जब रेलमंत्री थे, तब से उनके प्लाट नंबर 208 में गृह मंत्रालय के सशस्त्र सीमा बल (SSB) का जोनल पे एंड अकाउंट आफिस चल रहा है. इससे नियमों की धज्जियां उड़ा कर लालू प्रसाद लाखों रुपये कमा रहे हैं.

सुशील मोदी ने कहा कि आवासीय प्लाट सरकारी जमीन पर हैं, इसलिए सहकारी समिति को भी एक से अधिक प्लाट किसी को आवंटित या हस्तांतरित करने का अधिकार नहीं है. अगर कोई व्यक्ति आवंटित प्लाट बेचना चाहता है, तो उसे अपना प्लाट नियमानुसार सहकारी समिति को सरेंडर करना होगा, ताकि आवंटन की प्रतीक्षा करने वालों को इसका लाभ दिया जा सके.

sushil-kumar-modi-

उन्होंने आरोप लगाया कि जब प्लाट के लिए 200 से ज्यादा विधायक प्रतीक्षा सूची में हैं, तब बादशाह आजाद ने समिति की मिलीभगत से लालू प्रसाद के पास पहले से प्लाट रहते हुए मात्र 37 हजार रुपये में अपने प्लाट का लीज उनके नाम कैसे ट्रांसफर करा दिया? इस लेन-देन के जरिये कालेधन को सफेद किया गया. सहकारी समिति के अध्यक्ष पद का दुरुपयोग कर जयप्रकाश यादव और स्वर्गीय राधानंदन झा ने भी एक-एक अतिरिक्त प्लाट अपने लिए आवंटित कराये.

मोदी ने सवाल किया कि इस समिति के माध्यम से राजद और कांग्रेस के लोगों ने करोड़ों रुपये की सरकारी जमीन का बंदरबांट किया. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस समिति को तत्काल भंग कर पूरे मामले की जांच करायें और सारे अवैध आवंटनों को रद्द करें. जो लोग आवासीय प्लाट का दुरुपयोग कर कमाई कर रहे हैं, उनसे पैसे वसूलने की कार्रवाई भी होनी चाहिए.

यह भी पढ़ें –
सुमो का बड़ा आरोप : राबड़ी देवी ने सीएम रहते औने-पौने भाव में खरीदी जमीन
‘क्या पीएम मोदी विदेश जाने से पहले सुमो से इजाजत लेते हैं’