सुशील मोदी बोले – 15 साल में नहीं डरे तो अब क्या डरना…

पटना : राजधानी पटना में बुधवार दोपहर राजद और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच हुए हिंसक झड़प को लेकर भाजपा आक्रामक हो गई है. बिहार भाजपा ने नेताओं ने आज हुई इस झड़प के विरोध में गुरुवार को पूरे बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद का पुतला दहन करेगी. पटना में गुरुवार सुबह 11:30 बजे डाकबंगला चौराहे पर भाजपा नेता पुतला दहन करेंगे. इस दौरान बिहार भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय, पूर्व मुख्यमंत्री सुशील मोदी सहित बिहार भाजपा के सभी बड़े नेता मौजूद रहेंगे.

उधर इस झड़प को लेकर सुशील मोदी ने आरोप लगाया है कि स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव के निर्देश और सरकार की जानकारी में राजद के गुंडों ने भाजपा प्रदेश कार्यालय पर सुनियोजित तरीके से लाठी, रॉड, पत्थर और शराब की खाली बोतलों से हिंसात्मक हमला किया जिसमें भाजपा के आधे दर्जन कार्यकार्ता घायल हो गए. उन्होंने कहा कि भाजपा ने जो लालू परिवार की एक हजार करोड़ से अधिक की बेनामी सम्पति का खुलासा किया है, उससे बौखला कर राजद के लोगों ने यह कायरतापूर्ण और शर्मनाक हमला किया है.

मोदी ने कहा कि जब लालू-राबड़ी के 15 साल के जंगलराज में लालू के गुंडे नहीं डरा सके तो अब क्या डरना है? उन्होंने कहा कि भाजपा को प्रतिबंधित क्षेत्र होने के कारण कार्यालय के सामने धरना नहीं देने दिया गया, जबकि राजद के गुंडों को हमला करने की खुली छुट सरकार की ओर से दे दी गई.

उन्होंने कहा कि लालू की यही नीति रही है, जो भी उनके खिलाफ आवाज़ उठाएगा उसकी आवाज़ को राजद के गुंडों द्वारा बंद कर दिया जायेगा. लेकिन भाजपा इन गुंडों से नहीं डरने वाली और गलत करने वालों के खिलाफ लडती रहेगी. भाजपा नेताओं ने आज DGP से मिलकर झड़प में शामिल राजद कार्यकर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग भी की. इससे पहले सुशील मोदी ने आज लालू यादव की अवैध संपत्ति के खिलाफ बिहार सरकार द्वारा कोई कार्रवाई नहीं किये जाने के विरुद्ध एक दिवसीय धरने में भी शामिल हुए.

यह भी पढ़ें :

पटना में RJD-BJP कार्यकर्ताओं में हिंसक झड़प, लाठी-डंडे चले, कई घायल

लालू-तेजस्वी-तेजप्रताप के खिलाफ कोतवाली में एफआईआर, ADG बोले- देखेंगे सबूत

‘अगर जवाब देते भाजपा कार्यकर्ता तो लाशों के ढेर लग जाते’