सुमो का सवाल : 1 लाख की पूंजी से 50 करोड़ की मालिक कैसे बनी मीसा भारती?

sushil-kumar-modi_7-copy.jpg
फाइल फोटो

पटना (नियाज़ आलम) : आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद की बेटी और राज्यसभा सांसद मीसा भारती के दिल्ली में कथित फार्म हाउस का मामला तूल पकड़ने लगा है. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद के बाद अब प्रदेश भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने मीसा और लालू प्रसाद पर हमला किया है.

मोदी ने कहा है कि लालू यादव के परिवार के संबंध भ्रष्टाचार में लिप्त लोगों से ही है. उन्होंने कहा कि अवामी को-ऑपरेटिव बैंक के अनवर अहमद से उनके करीबी संबंध रहे हैं. अब 8000 करोड़ की मनी लॉन्ड्रिंग के दोषी जेल में बंद औरेंद्र जैन और वीरेंद्र जैन का इस्तेमाल लालू परिवार ने अपने काले धन को सफेद करने के काम में किया. मोदी ने कहा कि ये धन चारा घोटाले और लालू प्रसाद के रेल मंत्री रहते अर्जित किया गया काला धन है.

sumo

मोदी ने सवाल किया है कि मीसा भारती बताएं कि जब उन्होंने अपनी कंपनी 2005-06 में ही बंद कर दिया तो कोई बंद पड़ी कंपनी का शेयर 100 रुपये में क्यों खरीदेगा? उन्होंने पूछा है कि क्या 2008-09 में एक करोड़ 20 लाख का काला धन मुखौटा कंपनी के माध्यम से सफेद करने का प्रयास नहीं था? 2002 में एक लाख की पूंजी लगाकर मिशेल कंपनी खोलने वाली मीसा भारती 50 करोड़ की संपत्ति की मालिक कैसे बन बैठी? इस संपत्ति का ब्यौरा चुनाव आयोग को क्यों नहीं दिया गया?

भाजपा नेता ने कहा है कि उन्हें उम्मीद है कि इस मामले की जांच होगी. मोदी ने कहा, वो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से आग्रह करते हैं कि जो मामले बिहार के हैं उसकी जांच राज्य सरकार कराये. उन्होंने शनिवार को किये प्रेस कांफ्रेंस में अपने आरोपों के संबंध में दस्तावेज भी प्रस्तुत किये.

यह भी पढ़ें :
‘फर्जी कंपनी बना कौड़ियों के भाव खरीद ली करोड़ों की जमीन’
‘बकने दो भाजपाइयों को, हम विकास में मस्त हैं’
‘बिहार में करप्शन-क्राइम का बोलबाला, मौनी बाबा बन गए हैं नीतीश