‘जो दूर हो गए, उनके नजदीक जाएंगे क्योंकि हमें देश बचाना है’ 

पटना/राजगीर (नियाज आलम) : उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने राजगीर में आयोजित राजद के तीन दिवसीय प्रशिक्षण शिविर को सम्बोधित करते हुए शिविर में आये तमाम राजद पदाधिकारियों का स्वागत किया. इस दौरान उन्होंने कहा की राजगीर और बोधगया भगवान बुद्ध की ज्ञान धरती है. यह जगह ज्ञान, शांति तथा संतों की पवित्र भूमि है. जहां पर शांति है वहीं प्रगति और तरक्की है.

उन्होंने कहा कि शिविर को ध्यान मे रख कर 2019 के चुनाव मे भाजपा को शिकश्त दें. राजद विचारधारा और सिद्धांत की लड़ाई लड़ रही है. सफलता के लिये हमें विपक्ष के चाल और चरित्र को ठीक से जानना होगा. उनकी सोच खतरनाक है. हमें देश को बचाना है. हम किसी कीमत पर अपनी विचारधारा और सिद्धांत से समझौता नहीँ कर सकते. देश एक रहे इसके लिय सजग रहना है.

डिप्टी सीएम ने आगे कहा कि शोषित और पिछड़ी जाति, अल्पसंख्यक समाज के जो कुछ लोग, किसी कारण से हमसे दूर रह गये हैं, उनके नज़दीक जायेंगे, उन्हें अपने साथ जोड़ेंगे. हम लोगों को सतर्क रहने कि ज़रूरत है. पिछड़े, वंचित समाज के लोगों को साथ जुड़ना होगा. सब लोगों को एक प्लेटफॉर्म पर लायें. नौजवानों को अपने साथ जोड़ कर भविष्य की तैयारी करनी होगी.

तेजस्वी ने कहा कि जब गरीब के दो बेटे एक हो जाते हैं तो वे जंगल राज अलापने लगते हैं. मेहनत करने वाले कार्यकर्ताओं का हम सम्मान करेंगे. बुधवार को प्रशिक्षण शिविर को प्रोफेसर पुरुषोतम अग्रवाल, इमरान प्रतापगढ़ी, दिलीप मंडल, प्रोफेसर अरुण कुमार, जय शंकर प्रसाद गुप्ता, शिवानन्द तिवारी ने भी सम्बोधित किया और विभिन्न विषयों पर विस्तार से प्रकाश डाला. अंत मे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने घोषणा की कि वे देश के तमाम धर्मनिरपेक्ष दलों के नेताओं से बात करेंगे और अगस्त मे पटना के गाँधी मैदान मे विशाल रैली का आयोजन करेंगे.

यह भी पढ़ें-
राजगीर RJD सम्मेलन में पत्रकारों और लेखकों को मिला सम्मान
सुशील मोदी ने तेजस्वी से पूछे हैं 5 सवाल, पढ़िये