पवन वर्मा चले शरद यादव की राह! कहा- पार्टी चाहे तो हमें निकाल सकती है

लाइव सिटीज डेस्क : जदयू नेता व पूर्व सांसद पवन वर्मा तीन दिन पहले उस समय चर्चा में आ गये थे, जब उन्होंने गुजरात चुनाव को लेकर इलेक्शन कमीशन पर हमला बोला था. अब अचानक उन्होंने अब बड़ा बयान देकर जदयू की धड़कन बढ़ा दी है. उन्होंने ये बयान एक चैनल को इंटरव्यू में दिया है. उनके बयान के बाद जदयू तो अभी कुछ नहीं बोला है, लेकिन कुछ नेता दबी जुबान से कह रहे हैं कि पवन वर्मा भी अब शरद यादव की राह पर चल पड़े हैं.

तीन दिन पहले चुनाव आयोग की भूमिका पर सवाल उठाने वाले पूर्व सांसद पवन वर्मा ने कहा कि मैं गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर जो भी कुछ बोला हूूं, वह कहीं से गलत नहीं है. इसे लेकर उन्होंने दो टूक कहा कि मैं ज्वलंत मुद्दों पर सवाल उठाता ही रहूंगा. अगर पार्टी चाहे तो हमें निकाल सकती है. हमें कोई परेशानी नहीं है.

बता दें कि विदेश सेवा के पूर्व अधिकारी और जदयू के पूर्व सांसद पवन वर्मा ने गुजरात चुनाव की तारीखों की घोषणा नहीं करने को लेकर चुनाव आयोग पर निशाना साधा था. उन्होंने कहा था कि चुनाव आयोग को स्वतंत्र व निष्पक्ष रूप से काम ही नहीं करना चाहिए, बल्कि स्वतंत्र व निष्पक्ष दिखना भी चाहिए.

यहीं पर वे नहीं रुके थे. उन्होंने यह भी कहा था कि देश की आर्थिक नीतियां ठीक नहीं हैं. इसके अलावा उन्होंने ट्वीट करके यह भी कहा था कि भारत के वैश्विक भूख सूचकांक में 55 से खिसक कर 100वें स्थान पर पहुंच गया है, जो चिंता का विषय है. उन्होंने भाजपा व योगीनाथ पर भी निशाना साधा था. हालांकि जदयू ने पवन वर्मा के बयान से उस समय खुद अलग कर लिया था. पार्टी ने कहा था कि यह पवन वर्मा का व्यक्तिगत बयान था. लेकिन अब शनिवार को दिये गये बयान के बाद एक बार फिर मामला गरम हो गया है. हालांकि जदयू की ओर से पवन वर्मा पर कोई अधिकृत बयान नहीं आया है.