सिपाही प्रेमी ने दिया धोखा तो SP के पास पहुंच गई प्रेमिका, फिर जानें क्या हुआ

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: पांच साल के प्रेम संबंध के बाद जब नौकरी लगी तो प्रेम में साथ जीने मरने की कसमें खाने वाला प्रेमी शादी से मुकर गया. फिर क्या था पहले तो प्रेमिका ने आरजू-मिन्नत की लेकिन बात नहीं बनी तो सीधे पुलिस की मदद ली और उसी जिले के एसपी के पास जा पहुंची जिस जिले में उसके प्रेमी की नौकरी पुलिस विभाग में लगी है. मामला प्रेम-प्रसंग और पुलिस विभाग का था तो बात एसपी तक जाते देर नहीं लगी फिर क्या था एसपी साहब ने अपने कांस्टेबल को सख्त रूप अपनाते हुए प्रेमिका को स्वीकार करने का आदेश दिया जिसके बाद कोर्ट और मंदिर में शादी हुई. है.

दरअसल, यह शादी एसपी डॉ. सत्यप्रकाश के आदेश के बाद कराई गई. भागलपुर जिले के सुल्तानगंज महेशी निवासी सिपाही मिथिलेश पासवान और मुंगेर जिले के कला रामपुर निवासी प्रेमिका करिश्मा कुमारी के बीच करीब छह वर्षों से प्रेम प्रसंग चल रहा था. इस बीच म‍िथ‍िलेश से अचानक शादी करने से इंकार कर दिया. करिश्मा कुमारी अपने सिपाही प्रेमी की शिकायत लेकर एसपी के पास पहुंची. पूरा मामला जानने के बाद एसपी ने तुरंत सिपाही को अपने दफ्तर में बुलाया और ऑन द स्‍पॉट शादी करने का फैसला सुना दिया. 

एसपी के आदेश के बाद बांका कोर्ट परिसर में स्‍थ‍ित मंदिर में दोनों को ले जाकर शादी कराई गई. लड़की के पिता साजन कुमार ने बताया कि युवक महेशी का रहने वाला है, करिशमा की मौसी उसी गांव में रहती है. वहीं दोनों के बीच मुलाकात हुई थी. वह खुद तारापुर में नौकरी करते हैं. पिछले कई महीनों से लड़का शादी से इंकार कर रहा था. 15 दिनों से हमलोग शादी के लिए मना रहे थे, लेकिन लड़का नहीं मान रहा था. इसके बाद एसपी से मदद की गुहार लगाई गई.