जनता दरबार में CM नीतीश ने युवक ने कहा- अधिकारी कहता है सीएम क्या पीएम के पास जाओ कुछ नहीं होने वाला, नकल निकालने के लिए लेता है 10-10 हजार घुस

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का जनता दरबार शुरू हो गया है. रविवार शाम दिल्ली से लौटने के बाद आज सोमवार मुख्यमंत्री जनता के दरबार में लोगों की शिकायतें सुन रहे हैं। सीएम नीतीश फरियादियों की समस्या सुन अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दे रहे। जनता दरबार में मुजफ्फरपुर से पहुंचे एक शख्स ने मुख्यमंत्री के सामने ये कह दिया कि अधिकारी बहुत भ्रष्ट हैं. बिचौलियों को रखकर वसूली करते हैं. फरियाद कर जोर-जोर से रोने लगा.

एक शख्स ने सीएम नीतीश से कहा कि एक-एक कागज निकालने पर 10-10 हजार रू लेता है. डीसीएलआर कार्यालय और निबंधन विभाग में बिना पैसे का काम नहीं होता. जब हमने कहा कि हम जा रहे हैं मुख्यमंत्री से शिकायत करने. तब अधिकारियों और कर्मियों ने कहा कि मुख्यमंत्री क्या प्रधानमंत्री के यहां चले जाओ,कुछ नहीं होने वाला.

शख्स की बात सुन कर मुख्यमंत्री तुरंत राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के अपर मुख्य सचिव को फोन लगाया और कहा कि तुरंत इसको दिखवाइए. युवक कह रहा कि जनता दरबार जाने की बात कहने पर वहां का अधिकारी कहता है कि प्रधानमंत्री के यहां जाओ. यह कह रहा कि बिना पैसे का कुछ नहीं होता. इसकी जांच करवाइए और कार्रवाई करिए. 

गौरतलब हो कि हर सोमवार को अलग-अलग विभागों से संबंधित मामले जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम में सुने जाते हैं. लोगों की शिकायतें सुनने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तत्काल शिकायतों का निवारण का निर्देश संबंधित विभाग के पदाधिकारियों और मंत्रियों को देते हैं.