उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने देखा ‘इथेनॉल कुकिंग स्टोव’ का डेमो, कहा, राज्य में चल रहे कई बड़े प्रयोग

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार में इथेनॉल उद्योग को लेकर जबरदस्त सरगर्मी है. इथेऩॉल पॉलिसी आने के बाद से बिहार में इथेनॉल उत्पादन फैक्ट्री लगाने वालों की होड़ सी लग गई है. बिहार के लगभग सभी जिलों में इथेनॉल उत्पादन यूनिट्स लगाने के लिए उद्योग विभाग को आवेदन मिले हैं. इनमें से कईयों को स्टेज-1 क्लीयरेंस भी स्टेट इंवेस्टमेंट प्रमोशन बोर्ड के द्वारा दे दिया गया है. अन्य आवेदनों पर भी विचार किया जा रहा है.

एक तरफ बिहार सरकार मिशन मोड पर राज्य में इथेनॉल उत्पादन को बढ़ावा देने में जुटी हैं तो दूसरी तरफ कंपनीज़ और इनोवेटर्स भी इथेनॉल फ्यूल बेस्ड प्रोडक्ट्स तैयार करने में जुटी हैं. पटना में उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने अपने दफ्तर में ‘इथेनॉल कुकिंग स्टोव’ का एक डेमो देखा. डेमो के दौरान लेपिज फ्लेम के नाम से इस स्टोव को इथेनॉल फ्यूल से जलाकर मंत्री को दिखाया गया. इथेनॉल कूकिंग स्टोव लेपिज फ्लेम का डेमो देखने के बाद राज्य के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने कहा कि यह बहुत ही अच्छा है. इथेनॉल को लेकर अलग-अलग प्रयोग चल रहे हैं.

उन्होंने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार की एनडीए सरकार का मकसद इथेनॉल उप्तादन के क्षेत्र में बिहार को अग्रणी राज्यों में लेकर जाना है. इसके लिए निरंतर कोशिशें की जा रही हैं. अब तक हुए प्रयासों का बहुत ही अच्छा नतीजा मिल रहा है. शाहनवाज हुसैन ने कहा कि देश में वह समय आएगा जब इथेनॉल से बसें भी चलेंगी, कारें भी चलेंगी औऱ खाना भी पकेगा.