सिवान में गरजे जेपी नड्डा, कहा- लालटेन का राज चाहिए या एलईडी का? आप खुद तय कर लीजिए

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार में दूसरे और तीसरे चरण के चुनाव के लिए बीजेपी ने दम खम से प्रचार करना शुरू कर दिया है. इसको लेकर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा सिवान पहुंचे. यहां उन्होंने सदर विधानसभा क्षेत्र से प्रत्याशी ओम प्रकाश सिंह के लिए वोट मांगा. इस दौरान उनके साथ एनडीए के कई नेता मौजूद थे.

अपने संबोधन में जेपी नड्डा ने महागठबंधन पर बड़ा हमला बोला. उन्होंने कहा कि बिहार में विकास की गति सिर्फ एनडीए की सरकार में ही बढ़ सकती है. उन्होंने कहा कि अब आप पर निर्भर करता है कि आप किसकी सरकार को चुनना पसंद करते हैं. नड्डा ने आगे कहा कि क्या आप चाहते हैं बिहार में फिर से लालटेन का राज आ जाए?, बिजली बंद कर फिर से आप लालटेन युग में जाने के लिए तैयार हैं? उन्होंने जनता को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार में आपको कानून राज चाहिए या गुंडाराज चाहिए?, आप बाहुबलि चाहते हैं या फिर ऐसी सरकार जो आपको राशन दे?. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि अब ये आपको तय करना है कि इस राज्य को आप किस ओर ले जाना चाहते हैं.



जेपी नड्डा ने कहा कि बिहार में अगर विकास होगा तो वो एनडीए के शासनकाल में ही होगा. जंगलराज में आप विकास का काम भूल जाइए. उन्होंने कहा कि राज्य में बीजेपी के प्रत्याशी, जेडीयू के प्रत्याशी, वीआईपी के प्रत्याशी और हम पार्टी के प्रत्याशी को जिताना विकास के बराबर है. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि मैं खुद बिहार का हूं और मुझे पता है कि 15 साल पहले इस राज्य में क्या होता था. पहले किसी की हिम्मत नहीं होती थी शाम को घर से बाहर निकलने की. लेकिन अब आपको ये सब महसूस नहीं होता होगा.

सिवान में सभा को संबोधित करते हुए जेपी नड्डा ने मो. शहाबुदद्दीन का नाम लिए बगैर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि पहले यहां एक बड़ा अपराधी हुआ करता था. जिसने दो भाईयों की हत्या करवा दी. जब उनके खिलाफ में गवाही देने उनके भाई भी पहुंचे तो उनकी भी हत्या करा दी गई. उन्होंने कहा कि लालू यादव के राज में वो खुलेआम घूमा करता था. लेकिन जब नीतीश कुमार की सरकार आई. सबसे पहले उसे बिहार के जेल में भेजा गया और उसके बाद उन्हें तिहाड़ के जेल में भेजा गया.

जेपी नड्डा ने इसके बाद राहुल गांधी पर भी जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि पुलवामा हमला भूल गए. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी पाकिस्तान के वकील बन गए थे. उन्होंने कहा कि जब कश्मीर से धारा 370 हटाया गया तो इमरान खान यूएन में राहुल गांधी के बयान को दलील बनाकर लोगों के सामने रखा. अब ये आपको तय करना है कि आप किसे बिहार में चुनते हैं.