10 लाख नौकरी बाद में दीजिएगा, पहले 25 लाख लोगों के पलायन का दीजिए जवाब- जेपी नड्डा

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार विधानसभा का चुनाव आखिरी दौर में है. महज तीसरे चरण की वोटिंग की अब बाकी है. जोकि 7 नवंबर को मतदान समाप्त हो जाएगा. वहीं प्रचार का आज अंतिम दिन है. इसको लेकर सभी नेता लगातार दम खम लगा रहे हैं. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा दरभंगा के हायाघाट विधानसभा क्षेत्र पहुंचे. यहां उन्होंने एनडीए प्रत्याशी रामचंद्र प्रसाद और विनय चौधरी के लिए वोट मांगा.

जेपी नड्डा ने कहा कि जिस प्रकार से आप प्रत्याशियों के नाम पर तालियां बजा रहे हैं, उससे साफ है कि आपने दोनों प्रत्याशियों को जिताने का मन बना लिया है. उन्होंने कहा कि इस बार चुनाव सिर्फ प्रत्याशियों का नहीं है, ये चुनाव बिहार के भविष्य का है. जेपी नड्डा ने कहा कि एक तरफ बिहार में काम करने वाले लोग और दूसरी तरफ बिहार को विनाश करने वाले लोग हैं. जिन्होंने बिहार को विनाश करने में कोई कसर नहीं छोड़ा है. उन्होंने कहा कि ये कोई कहने की बात नहीं है, ये जो आपबीती है वही कह रहा हूं.



बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि आज से 15 साल पहले बिहार की क्या स्थिति थी, आपलोगों को तो बेहतर मालूम है. उन्होंने कहा कि लालू यादव ने लाठी भांजन रैली बुलाई थी. आज ये कानून राज की बात करने आए हैं. बीजेपी नेता ने कहा कि आज ये लोग विकास की बात करते हैं. मोदी जी ने विकास का ऐसा मंत्र दिया है कि लोग उससे निकल नहीं पा रहे हैं. उन्होंने तो देश की राजनीति का चल चित्र ऐसा बदल दिया कि आज इनलोगों को मजबूरी में विकास की बात करना पड़ रहा है.

उन्होंने तेजस्वी यादव पर तंज कसते हुए कहा कि कहते हैं कि 10 लाख नौकरी देंगे. पहले ये बताइए कि लालू यादव के राज में 25 लाख लोगों का पलायन हो गया, उसका जवाब कौन देगा? लालू जी ने बिहार को नीचा किया है. उन्होंने कहा कि बिहारियों की ताकत थी कि वो बाहर जाकर काम करते हैं और इज्जत कमातर वापस लौटते हैं. उन्होंने कहा कि जंगलराज के युवराज तेजस्वी यादव को आपलोगों ने युवराज बनाकर भेजा था. पिछले साल बजट का सत्र खत्म हो गया. लेकिन विधानसभा में कदम तक नहीं रखा और ये बिहार में लोगों को नौकरी देंगे.