कैमूर डीएम ने लॉकडाउन के नए नियमों पर दिए अफसरों को निर्देश, कहा, एक दिन के अंतराल पर खुलेंगी दुकानें

लाइव सिटीज, कैमूर: कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण के बीच सरकार द्वारा जारी गॉइडलाइन में अब कई क्षेत्रों में बड़ी छूट दी गई है. सरकार की ओर से जारी नए गॉइडलाइन नियमों के अनुपालन में कैमूर जिला अधिकारी नवदीप शुक्ला ने जिला वासियों एवं व्यवसायियों के साथ-साथ आम लोगों से अपील की कि नौ जून से 15 जून तक कई क्षेत्रों में जहां सरकार की ओर से छूट दिया गया है, वहीं कई प्रतिबंध अभी भी जारी रहेंगे.

उन्होंने कहा कि यह निर्णय आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में कोरोना के संक्रमण की स्थिति को नियंत्रण में रखने की दिशा में व्यक्तियों, वाहनों के आवागमन, दुकानों, प्रतिष्ठानों, सामाजिक एवं अन्य कार्यक्रमों के लिए नए नियम जारी किए गए हैं. इसके तहत सभी सरकारी एवं गैर सरकारी कार्यालय 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ शाम 4 बजे तक खुलेंगे. सरकारी कार्यालयों में आगंतुकों का प्रवेश वर्जित रहेगा. अपवाद स्वरूप आवश्क सेवाओं में जिला प्रशासन, पुलिस, सिविल डिफेंस, विद्युत आपूर्ति,  जलापूर्ति, स्वच्छता, फायर ब्रिगेड, स्वास्थ, पशु स्वास्थ्य, आपदा प्रबंधन, कोषागार एवं उनसे संबंधित वित्त विभाग के कार्यालय, दूरसंचार, डाक विभाग से संबंधित कार्यालय आदि यथावत संचालित रहेंगे. सभी दुकाने एवं प्रतिष्ठान एक दिन के अंतराल पर खोले जाएंगे. इसके तहत दुकानें सुबह 6 बजे से शाम 5 बजे तक संचालित होंगी. उन्होंने कहा कि जिला अंतर्गत सभी दुकानें/ प्रतिष्ठान बुधवार, शुक्रवार और रविवार को खुलेंगे. अपवाद स्वरूप उर्वरक, बीज, कीटनाशक और कृषि यंत्रों से संबंधित प्रतिष्ठान/ दुकानें, आवश्यक खाद्य सामग्री तथा फल एवं सब्जी आदि की दुकानें प्रतिदिन प्रातः 6बजे से 5 बजे शाम तक खुलेंगी.

उन्होंने कहा कि सार्वजनिक परिवहन में निर्धारित बैठने की क्षमता के मात्र 50 फीसदी के उपयोग की अनुमति रहेगी. सभी स्कूल, कॉलेज, कोचिंग संस्थान तथा अन्य शैक्षणिक संस्थान बंद रहेंगे. इस अवधि में राज्य सरकार के विद्यालय एवं विश्वविद्यालय द्वारा किसी भी तरह की परीक्षाएं भी नहीं ली जाएंगी. विवाह समारोह में अधिकतम 20 व्यक्तियों की उपस्थिति होगी. इनमें डीजे एवं बारात जुलूस की इजाजत नहीं होगी. विवाह की पूर्व सूचना स्थानीय थाने को कम से कम 3 दिन पूर्व देनी होगी. जिला पदाधिकारी ने दोनों अनुमंडल पदाधिकारी, दोनों अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी,  सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी,  सभी अंचलाधिकारी, सभी पीएचसी प्रभारी एवं सभी थानाध्यक्षों को सरकार द्वारा जारी गॉइडलाइन का अक्षरशः अनुपालन के लिए निर्देशित किया.