ओवरलोड के खिलाफ कैमुर पुलिस का अभियान, सड़कों पर उतरे जिला के सभी बड़े अधिकारी

लाइव सिटीज, कैमुर/भभुआ(ब्रजेश दुबे): जिले के एनएच दो पर लगातार ओवरलोड बालू ढो रहे ट्रकों का मामला प्रकाश में आने के बाद सरकार ने 14 चक्का एवं उससे अधिक चक्का वाले वाहनों पर बालू एवं गिट्टी लोड करने पर रोक लगा दिया गया है. एनएचआई के द्वारा कर्मनाशा नदी पर बने पुल के मरम्मत के बाद भी चालू नहीं किया गया.

एनएचआई के द्वारा सरकार को पत्र लिखकर ओवरलोड वाहनों के ऊपर रोक लगाने की मांग की गई थी. उसमें स्पष्ट कहा गया था कि जब तक सरकार ओवरलोड वाहनों के ऊपर लगाम नहीं लगाती है तब तक इस पुल से आवागमन चालू नहीं किया जाएगा. जिसे संज्ञान में लेते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यह आदेश पारित कर दिया कि 14 चक्का एवं उससे अधिक चक्का वाले वाहनों पर बालू एवं गिट्टी लोड करने पर वाहनों को जप्त किया जाएगा.



इसके बाद कैमुर जिला के परिवहन पदाधिकारी रामबाबू , डीएसपी मोहनिया रघुनाथ सिंह, एसडीएम मोहनिया अमृसा बैस सहित दर्जनों पदाधिकारी ओवरलोड बालू लदे ट्रकों को जप्त करने के लिए एनएच दो पर उतर गये. इसके बाद ट्रक मालिकों में हड़कंप मच गया. कितने चालक ट्रकों को रोड पर छोड़कर ही भाग गये. अनेकों ट्रकों को पदाधिकारियों के द्वारा जप्त कर लिया गया.

जिला परिवहन पदाधिकारी रामबाबू ने बताया कि 14 चक्का एवं उससे अधिक चक्का वाले वाहनों को सरकार द्वारा ओभर लोड पर रोक लगाया गया है. बालू मिट्टी एवं गिट्टी की धुलाई बंद करने का निर्देश दिया गया है.