पकड़े गए निर्भय सिंह के हत्यारे, मुंबई से उठा लाई पटना पुलिस

पकड़े गए शूटर्स के साथ SSP मनु महाराज

पटना : बिहटा में हुए सिनेमा हॉल मालिक निर्भय सिंह की हत्या मामले में पटना पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. इस कांड को अंजाम देने वाले शार्प शूटर्स जो फरार चल रहे थे, उन्हें टीम ने अरेस्ट कर लिया है. इसमें दो शूटर्स को मुंबई और एक को पटना के बहादुरपुर इलाके से ही पकड़ा गया है.

इनके बारे में जानकारी देते हुए पटना के एसएसपी मनु महाराज ने बताया कि इन तीनों शूटर्स की आपसी मुलाकात जेल के अंदर हुई थी. आपसी जान—पहचान के बाद इन तीनों ने खुद का एक गैंग बना लिया था. जो सुपारी लेकर लोगों को मौत के घाट उतारने का ठेका लेता था. गैंग का मेन सरगना बना था शंकर कुमार चौधरी. जबकि सौरभ कुमार उर्फ विशाल राज उर्फ रिक्की कुमार और मो. शब्बिर उर्फ जाहिद उर्फ तनवीर शंकर का साथ ​देते थे.

निर्भय सिंह की हत्या करने के बाद तीनों फरार हो चुके थे. शंकर और सौरभ बिहार से भाग कर महाराष्ट्र चले गए. दोनों मुंबई में अलग—अलग ठिकानों पर छिपे थे. एसएसपी मनु महाराज मामले की गंभीरता को जानते थे. वारदात के 48 घंटे के अंदर ही मुख्य साजिशकर्ता अक्षय कुमार उर्फ प्रिंस उर्फ गोलू को पुलिस टीम ने अरेस्ट कर लिया था. बावजूद शार्प शूटर्स की गिरफ्तारी के ये केस अधूरा था. जिसे पूरा करने में पटना पुलिस की टीम जुटी थी.

एसएसपी को पता चला कि मुंबई में शंकर चौधरी आराम से घूम—फिर रहा है. इसके बाद ही एक टीम को पटना से मुंबई भेज दिया गया. टीम ने छापेमारी कर शंकर को सबसे पहले अपने गिरफ्त में लिया. फिर इसकी निशानदेही पर पवई इलाके में छापेमारी की औश्र वहां से सौरभ को अरेस्ट किया. फिर इन दोनों की निशानदेही पर पटना के बहादुरपुर में छिपे तीसरे शूटर शब्बिर को पकड़ा गया.

पुलिस टीम ने इन तीनों से पूछताछ की. जिसमें पता चला कि जेल के अंदर ही इनकी मुलाकात हुई थी. फिर इनसे निर्भय सिंह की हत्या के लिए कांटैैक्ट किया गया था. इनके बीच निशांत कुमार अमित ने लाइनर की भूमिका निभाई थी. एसएसपी की मानें तो अकेले शंकर के खिलाफ करीब 8 आपराधिक मामले दर्ज हैं. जबकि सौरभ के खिलाफ 4 और शब्बिर के खिलाफ एक एफआईआर पहले से दर्ज है.

यह भी पढ़ें – निर्भय सिंह के परिजनों से मिलने बिहटा पहुंचे पप्पू यादव, बांटा दर्द
वीडियो : आखिर पकड़ा गया महाकाल गैंग का शातिर गोलू और उसके साथी, बिहटा हत्याकांड में थे शामिल

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)