काेरोना से बचने काे रेल प्रशासन का जबर्दस्त जुगाड़, कर रहे हैं ये काम

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: कहते हैं आवश्यकता ही अविष्कार की जननी है. कोविड के समय कोरोना वायरस से बचने के लिए जो घरेलू उपाय बताए जा रहे हैं उनमें से एक उपाय गर्म-गर्म भाप लेना भी है. लेकिन जो पुलिसकर्मी अपने-अपने घरों को छोड़कर बाहर जिलों में ड्यूटी देते हैं और चौबीस घंटे कोरोना से लड़ाई में सामने रहते हैं, उनके लिए से गर्म भाप लेना थोड़ा मुश्किल है.  कोरोना काल में इम्युनिटी को मजबूत करने व संक्रमण से बचने के लिए रेल कर्मी जुगाड़ तकनीकी को अपना रहे हैं. रेलवे के रनिंग रूम में मुख्य क्रू नियंत्रक द्वारा स्टीम इनहेलेशन का निर्माण किया गया है. ताकि रेल कर्मी कोरोना जैसी महामारी से अपने को सुरक्षित रख सके.

कोरोना संक्रमण में गर्म पानी की भाप लेना जरूरी है. ऐसे में घरेलू उपकरणों के सहयोग से स्टीम इनहेलेशन बनाया गया है. इससे लोको पायलट, गार्ड समेत अन्य रेल कर्मी सुबह-शाम में भाप ले रहे है। रेल कर्मियों को पाइप के जरिए भाप दिया जा रहा है। यह भाप गैस सिलिंडर पर रखे कुकर के जरिए पाइप से निकल रही है। इसमें केवल कुकर में पानी डालकर गर्म किया जाता है और गर्म पानी से भाप पाइप निकलने लगता है।  पाइप के जरिए भाप लोगों के नाक तक पहुंचता है। इससे काफी फायदा भी हो रहा है।