पटना के कालिदास रंगालय में होगा रावण दहन, कोरोना का भी जलेगा पुतला

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार में कोरोना महामारी की स्थिति सुधरते ही एक बार फिर त्योहारों की खोई रौनक वापस लौट आई है. दशहरा के दौरान बिहार में रौनक देखने को मिल रही है. हालांकि अभी भी कोरोना का खतरा बरकरार है. ऐसे में सरकार ने कई गाइडलाइन जारी किए हैं.पटना में इस बार रावण, कुंभकरण, मेघनाद के साथ-साथ करोना को भी जलाया जाएगा.

पटना के गांधी मैदान में होने वाला रावण दहन का कार्यक्रम पूरे बिहार में लोकप्रिय है. कोरोना के कारण पिछले 2 साल से यह बंद है. पिछले साल पटना के गांधी मैदान में रावण दहन का कार्यक्रम नहीं हो पाया, लेकिन इस बार पटना में पटना वासियों के लिए रावण दहन का कार्यक्रम किया जा रहा है. इस बार भी यह गांधी मैदान में नहीं हो रहा है. इस बार रावण दहन का कार्यक्रम सांकेतिक रूप से बिहार आर्ट थियेटर (कालिदास रंगालय) के परिसर में होगा.

जानकारी के अनुसार, विजयादशमी के दिन 15 अक्टूबर की शाम 4:30 बजे से 5:30 बजे के बीच कालिदास रंगालय में रावण वध और करोना दहन का आयोजन किया जाएगा. इसके लिए पंद्रह फीट का रावण, तेरह फीट का मेघनाद, बारह फीट का कुंभकरण और दस फीट का कोरोना का पुतला तैयार कर लिया गया है.