‘भारत में बिजनेस में 16000 गुणा और भुखमरी से मौत में 200 गुणा हुई है बढ़ोत्तरी’

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने एक बार फिर केंद्र सरकार पर जोरदार हमला बोला है. इस बार देश की आर्थिक स्थिति, ईज ऑफ़ डूइंग बिज़नेस  और भुखमरी मुद्दा बना है. तेजस्वी यादव ने इसके बहाने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बेटे जय शाह पर भी निशाना साधा है.

तेजस्वी यादव लिखते हैं कि हमारे पास तो एक टेक्स्टबुक उदहारण है- ईज ऑफ़ डूइंग बिज़नेस में भारत ने 16000 गुणा छलांग लगाई है और ईज ऑफ़ डाईंग बाय हंगर में 200 गुणा छलांग लगाई है. तेजस्वी यादव ने यह बातें वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा दी गई जानकारी के बाद कही है.

बता दें कि वर्ल्ड बैंक के अनुसार कि भारत की व्यापार सुगमता रैंकिंग 30 पायदान सुधरकर 100वें स्थान पर पहुंच गई है. कारोबार सुगमता के 10 संकेतकों में से आठ को अमल में लाने से भारत की रैंकिंग सुधरी है. वर्ल्ड बैंक ने यह भी कहा कि भारत की व्यापार सुगमता रैकिंग तय करते समय जीएसटी क्रियान्वयन को शामिल नहीं किया गया है, इसके प्रभाव को अगले साल शामिल किया जाएगा.

वहीं 12 अक्टूबर को जारी हुई वैश्विक भुखमरी सूचकांक (जीएचआई) की रिपोर्ट सोशल मीडिया पर सबसे ज्‍यादा चर्चा की विषय बन गई थी. रिपोर्ट में बताया गया कि भारत, भुखमरी सूचकांक में और नीचे आ गया है। अंतरराष्ट्रीय खाद्य नीति अनुसंधान संस्थान (आईएफपीआरआई) के बयान में कहा गया-”भारत का स्थान 119 देशों में 100वें नंबर पर है, और उसे पूरे एशिया में तीसरा सबसे ज्यादा स्कोर मिला है — केवल अफगानिस्‍तान और पाकिस्‍तान की रैंकिंग ही सबसे खराब है.”

रिपोर्ट में आगे कहा गया है, ”31.4 के साथ, भारत का 2017 जीएचआई (ग्लोबल हंगर इंडेक्स) स्‍कोर ‘गंभीर’ श्रेणी के उच्‍च सिरे पर है और यह इस वर्ष जीएचआई में सबसे खराब प्रदर्शन करने वाले क्षेत्र की श्रेणी में दक्षिण एशिया के पिछड़ने का एक मुख्य कारण है, इस श्रेणी में दक्षिण एशिया, सहारा के दक्षिण अफ्रीका से कुछ ही पीछे है.” इस समाचार की रिपोर्टिंग सभी मुख्‍य मीडिया हाउस द्वारा की गई.