बिहार विधानमंडल मानसून सत्र का आज तीसरा दिन: बोले भाई वीरेंद्र, जबतक हमारी बातों को नहीं मानेंगे सरकार, हम सदन का करेंगे बहिष्कार

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार विधानमंडल मानसून सत्र का आज तीसरा दिन हैं. महागठबंधन ने सदन की कार्यवाही का बहिष्कार किया है. 23 मार्च की घटना को लेकर महागठबंधन के आरजेडी, कांग्रेस और वामपंथी दल विशेष चर्चा की मांग करने जा रहे हैं. दूसरी तरफ अधिकारियों पर कार्रवाई भी चाहते हैं. विपक्ष सदन के बाहर हंगामा कर रहे है. सदन के बाहर धरने पर बैठे हैं. आरजेडी विधायक भाई वीरेंद्र का कहना है कि सदन लोकतंत्र की मंदिर है और लोकतंत्र की मंदिर विधायकों के लिए बना है. अपनी बातों रखने के लिए सदन बना है.

आरजेडी विधायक भाई वीरेंद्र ने कहा कि विधायक सदन में अपनी बातों को रखती है तो सरकार विधायकों को  जूता से मार खिलवाती है. सीएम नीतीश अधिकारियों से वूट मार खिलवाते हैं. नेता प्रतिपक्ष अपनी बातों को रखकर इस पर बहस कराना चाहते हैं. तेजस्वी यादव सदन में दो मुद्दा रखना चाहते हैं, एक विधायकों की पिटाई मामला और दूसरा जातीय जनगणना लेकिन सदन में इनकी बतों नहीं मानी जा रही है. भाई वीरेंद्र ने कहा कि जबतक हमारी बातों को नहीं मानी जाएगी तबतक हमलोग सदन का बहिष्कार करेंगे. सदन के अंदर विपक्ष के नेता नहीं जाएंगे.

आपको बता दें कि 23 मार्च की घटना का असर बिहार विधानसभा के मानसून सत्र पर भी पड़ रहा है. मंगलवार को दूसरे हाफ में विपक्ष की ओर से केवल एआईएमआईएम के विधायक ही सदन में मौजूद थे. विपक्षी सदस्यों की अनुपस्थिति में ही दूसरे हाफ की कार्यवाही हुई और विधेयकों को भी पास कराया गया है. ऐसे में विपक्ष विधानसभा परिसर पहुंचेगा लेकिन सदन की कार्यवाही में भाग नहीं लेगा. विधानसभा अध्यक्ष और सरकार की ओर से विपक्ष को मनाने की कोशिश होती है या नहीं, यह भी देखने वाली बात होगी.