बिहार-झारखंड के बीच आवागमन होगा आसान, 210 मार्गों पर चलेंगी बसें

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार और झारखंड के बीच आवागमन आसान होने वाला है. दोनों राज्योंके बीच 210 मार्गों पर बस चलाने की तैयारी हो रही है। वैसे तो बिहार के कई शहरों से झारखंड के कई शहरों के लिए बसें चलती हैं, लेकिन 210 मार्गों पर बस चलने से यात्रियों को एक से दूसरे राज्‍य जाने में काफी सहूलियत होगी. अधिकारियों की मानें तो इस बाबत 19 नवंबर को परिवहन आयुक्‍त के कार्यालय में बैठक होगी. इसमें बसों को परमिट देने पर अंतिम मुहर लगने की उम्‍मीद है.

बिहार सरकार ने प्रदेश के सभी शहरों से झारखंड समेत अन्‍य राज्‍यों में बस सेवा शुरू करने की तैयारी में है. झारखंड के अलावा उत्‍तर प्रदेश और अन्‍य राज्‍यों में भी बस सेवा शुरू की जाएगी, लेकिन इसकी शुरुआत झारखंड से की जाएगी. विभागीय अधिकारियों के मुताबिक 19 नवंबर को राज्य परिवहन आयुक्त के कार्यालय में बैठक होगी. इसमें बसों के परमिट पर अंतिम मुहर लगने की संभावना है. इसके बाद बसों का परिचालन शुरू कर दिया जाएगा. उम्‍मीद जताई जा रही है कि दिसंबर से बिहार के सभी शहरों से झारखंड जाने की सुविधा उपलब्‍ध हो जाएगी.

पटना से रांची के बीच 500 बसों का परमिट कोटा है, जिसमें 465 खाली हैं. इसी तरह पटना से टाटा के बीच 200 में 157, हजारीबाग के बीच 200 में 157 और देवघर के लिए 125 में 121 खाली हैं. इसे देखते हुए परिवहन विभाग बसों को परमिट देने में तेजी लाने जा रहा है, ताकि दोनों राज्‍यों के प्रमुख रूट पर बसों का परिचालन शुरू किया जा सके.