नीतीश कुमार के मन में क्या है?, एक महीने में दूसरी बार PM मोदी की मीटिंग में शामिल नहीं होंगे CM नीतीश, अटकलें तेज

लाइव सिटीज पटना: बिहार की सियासत में इन दिनों काफी कुछ हो रहा है. हाल के दिनों में बीजेपी और जेडीयू के बीच रिश्तों में तल्खी थोड़ी बढ़ गई है. कई मुद्दों पर बीजेपी और जेडीयू के सुर अलग-अलग रहे हैं. इस बीच खबर आ रही है कि पीएम मोदी की अध्यक्षता में होने वाली नीति आयोग की बैठक में नीतीश कुमार शामिल नहीं होंगे. एक महीने के अंदर यह दूसरी बार होगा, जब बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ होने वाली बैठक में शामिल नहीं होंगे. ऐसे में बिहार के सियासी गलियारे में अटकलों का बाजार गर्म है. आखिर नीतीश कुमार के मन में क्या चल रहा है. क्या बिहार में कोई बड़ा सियासी बदलाव होने वाला है क्या.

दरअसल सोमवार, 8 अगस्त 2022, को पीएम मोदी की अध्यक्षता में नीति आयोग की दिल्ली में बैठक होने जा रही है और इस बैठक में सीएम नीतीश शामिल नहीं होंगे. बताया जा रहा है कि नीतीश कुमार नीति आयोग की बैठक में डिप्टी सीएम तारकिशोर को भेजना चाहते थे लेकिन उनको बताया गया कि इस बैठक में केवल मुख्यमंत्री ही शामिल हो सकते हैं. बता दें कि नीतीश कुमार नीति आयोग की रैंकिंग से नाराज रहते हैं. नीति आयोग की रैंकिंग में बिहार को विकसित राज्यों में सबसे हमेशा नीचे रखा जाता है और इसे लेकर नीतीश कुमार ने अपनी नाराजगी भी जताई है.

बता दें कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पिछले महीने तत्कालीन राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के लिए पीएम मोदी द्वारा आयोजित रात्रिभोज और राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के शपथ ग्रहण समारोह में भी शामिल नहीं हुए थे. वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा बुलाई गई मुख्यमंत्रियों की बैठक में भी नीतीश कुमार ने हिस्सा नहीं लिया था. नीतीश कुमार ने उस बैठक में राज्य के डिप्टी सीएम को भेजा था. बतातें चलें कि बीजेपी और जेडीयू के बीच काफी समय से शह मात का खेल हो रहा है. हालांकि इसमें अभी बड़े नेताओं की एंट्री नहीं हुई है. ना तो नीतीश कुमार करीबी बीजेपी की खिलाफत करते हैं ना ही बीजेपी का केन्द्रीय नेतृत्व खुलेआम कुछ कहता है.