लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: यूपीएससी की परीक्षा में तो कई बार बिहार के बच्चों ने अपना परचम लहराया है. लेकिन इस बार बिहार के बेटे ने एसएससी की परीक्षा में अपना परचम लहराया है. बिहार के नवादा जिले के हिसुआ प्रखंड के भदसेनी गांव निवासी बाल्मीकि प्रसाद के बेटे ऋषि आनंद एसएससी सीएचएसएल 2017 की परीक्षा में देशभर में प्रथम स्थान हासिल किया है.

कर्मचारी चयन आयोग ने एसएससी सीएचएसएल 2017 का परिणाम शुक्रवार को घोषित किया. इसमें बिहार के नवादा जिले के हिसुआ प्रखंड के भदसेनी गांव के ऋषि आनंद देशभर में टाॅपर बने हैं. परीक्षा के परिणाम आने के बाद परिवार में खुशी का महौल है.

मेधावी छात्र रहे हैं ऋषि

ऋषि अपने शुरुआती समय से ही मेधावी छात्र रहे हैं. ऋषि ने वर्ष 2008 में 92 फीसदी अंकों के साथ डीएवी चाईबासा से मैट्रिक पास किया था. वहीं, 2010 में वो डीपीएस बोकारो से 93 फीसदी अंक के साथ इंटर में उत्तीर्ण हुए. इसके बाद 2014 में कुसैट इंजीनियरिंग कॉलेज केरला से उन्होंने बीटेक किया.

यूपीएससी की परीक्षा पास कर देश की सेवा करना चाहते हैं ऋषि

बीटेक करेने के बाद ऋषि ने दिल्ली में इंजीनियर की नौकरी शुरू की. जॉब करते हुए वो यूपीएससी की परीक्षा में भी अपीयर हुए, लेकिन इसमें उन्हें सफलता नहीं मिली. इसके बाद उन्होंने रेलवे सेक्शन इंजीनियर की प्रतियोगिता परीक्षा में  सफलता हासिल की. लेकिन उन्होंने कहा कि वो यूपीएससी की परीक्षा पास कर देश की सेवा करना चाहते हैं.

5869 उम्मीदवारों को उत्तीर्ण घोषित

बता दें कि कर्मचारी चयन आयोग ने सीएचएसएल 2017 की परीक्षा में कुल 5869 उम्मीदवारों को उत्तीर्ण घोषित किया है. अभ्यर्थी एसएससी की वेबसाइट पर जाकर रिजल्ट देख सकते हैं