राम मंदिर पर एलजेपी और बीजेपी में ठन गई, चिराग बोले – हम नहीं हैं साथ

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: 2019 के चुनावों को लेकर विकास ही हमारा एजेंडा. हम सबका साथ, सबका विश्वास वाले एजेंडे पर चलते है और इसी के साथ हैं. उक्त बातें आज लोक जन शक्ति पार्टी के सुप्रीमों रामविलास पासवान के बेटे चिराग पासवान ने आज पटना में कही. उन्होंने इस दौरान एनडीए में अपने सहयोगी बीजेपी के राम मंदिर के एजेंडों को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि मुद्दा सिर्फ विकास का होना चाहिए. वहीं चिराग ने ट्रीपल तलाक के मामले पर बीजेपी का सपोर्ट किया है.

राम मंदिर हमारा एजेंडा नहीं है : चिराग पासवान

जमुई से सांसद और लोक जनशकित पार्टी के नेता चिराग ने आज पटना में बीजेपी के चुनावी एजेंडे को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दी है. बीजेपी के राम मंदिर के एजेंडे को चिराग ने सिरे से खारिज कर दिया है. वहीं चिराग ने मंदिर के मामले को चुनाव के वक्त ही याद किए जाने को लेकर भी नाराजगी जताई है. चिराग ने कहा कि यह मुद्दा सिर्फ चुनाव के वक्त नहीं उठाया जाना चाहिए. चिराग ने मीडिया के सामने बीजेपी को नसीहत भी दे दी कि राम मंदिर और ट्रीपल तलाक केवल चुनावी मुद्दा ही नहीं बने इसका ख्याल रखा जाना चाहिए.

एक ओर जहां चिराग ने अपने ही सहयोगी बीजेपी के राम मंदिर के एजेंडे को खारिज कर दिया है तो वहीं चिराग ने कहा कि उनकी पार्टी ने लोकसभा में ट्रीपल तलाक के पक्ष में वोट किया है. तीन तलाक के मामले को लेकर बीजेपी का सपोर्ट करते हुए चिराग ने कहा कि यह कोई चुनावी एजेंडा नहीं है. वहीं उन्होंने यह भी कहा कि हम बीजेपी के विकास के एजेंडे के साथ हैं और हमारा भी यहीं एजेंडा है. हम सबका साथ, सबका विकास में यकीन रखते हैं.

वहीं चिराग ने ट्वीट करते हुए भी इसी बात को कहा है. उन्होंने राम मंदिर के मामले मो लोकतंत्र को भटकाने वाला बताया है. चिराग ने लिखा — राम मंदिर कोई चुनावी मुद्दा नहीं बल्कि यह देश के करोड़ों भारतियों की श्रधा विश्वास व आस्था का विषय है.
सिर्फ़ चुनाव के ही समय इसपर ध्यान देना लोकतंत्र में विकास के मुद्दों को भटकाता है.राम मंदिर का मामला अपने अंतिम चरण में है।लोकतंत्र की गीता ‘संविधान’ से ही इसका हल निलकेगा.

आपको बता दें कि हाल ही में राम मंदिर का मामला फिर से गरमाया हुआ है. एक ओर जहां हिन्दु संगठन राम मंदिर पर बिल लाने को लेकर सरकार पर दबाव बना रहे हैं ​तो वहीं सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की सुनवाई जल्दी नहीं होने को लेकर प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर आरोप लगाया है. इसी को लेकर चिराग पासवान ने यह साफ किया है कि उनकी पार्टी का एजेंडा राम मंदिर नहीं है. इससे पहले जदयू ने भी मंदिर और तीन तलाक मामले पर सरकार को सपोर्ट करने से मना कर दिया था.

जेल के रास्ते सरकार बनाने के जुगाड़ में महागठबंधन

चिराग पासवान यहीं नहीं रुके उन्होने लगे हाथ महागठबंधन को भी निशाना बनाया. लालू यादव पर भी उन्होंने हमला बोला है. रांची के रिम्स में लालू यादव से मिलने पहुंच रहे महागठबंधन के नेताओं को लेकर चिराग ने हमला बोला है. चिराग ने कहा कि महागठबंधन जेल के रास्ते सरकार बनाने की जुगत में लगा हुआ है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*