CM नीतीश कुमार को BJP ने पोस्टर से किया आउट, तो RJD पहुंच गई बाप तक, जानें पूरा मामला

लाइव सिटीज पटना: शाहाबाद और पूर्वांचल समेत अन्य जिलों और राज्यों को बिहार की राजधानी पटना से जोड़नेवाला नया कोइलवर सिक्सलेन पुल का उद्घाटन हो गया. लेकिन इसको लेकर सियासत भी खूब हुई. इस कार्यक्रम को लेकर लगाए गए पोस्टर से सीएम नीतीश कुमार का नाम गायब था. हालांकि विवाद बढ़ने पर बीजेपी ने पोस्टर में सीएम का शामिल किया. इस मामले में आरजेडी ने बीजेपी और नीतीश कुमार पर निशाना साधा है. आरजेडी प्रवक्ता शक्ति सिंह यादव ने तो यहां तक कह दिया कि ये बीजेपी के बाबू जी की जागीर नहीं है.

पोस्टर से सीएम नीतीश का नाम गायब मामले पर आरजेडी प्रवक्ता शक्ति सिंह यादव ने कहा कि पोस्टर से नाम हटाने की मैं निंदा करता हूं लेकिन जैसा आप करियेगा वैसा ही ना पाइएगा. नीतीश कुमार ने लोकतंत्र के साथ मजाक किया है. जनादेश का अपमान किया है. उसका परिणाम तो भुगतना ही पड़ेगा. साथ ही आरजेडी प्रवक्ता ने कहा कि देश का खजाना बीजेपी के बाबू जी की जागीर नहीं ना है. या किसी भी दल की जागीर नहीं है. देश का खजाना और उस खजाने से निर्मित होने वाले पुल के उद्घाटन को कोई दल का नाम दिया जाए.

आरजेडी प्रवक्ता शक्ति सिंह यादव ने कहा कि वैचारिक तौर पर नीतीश कुमार से हमरी विचारधारा अलग है लेकिन एक मुख्यमंत्री के तौर पर उसको कोई दरकिनार कर दें तो ये संघीय ढांचा पर प्रहार है. मैं इसे सही नहीं मानता. दरअसल इस पोस्टर में पीएम नरेंद्र मोदी, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, आरके सिंह की बड़ी तस्वीर लगाई गई थी. वहीं इस पोस्टर में पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा, बिहार के मंत्री नितिन नवीन और प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल को जगह दी गई थी. लेकिन सीएम कहीं नहीं नजर आ रहे थे. बाद में विवाद बढ़ने में पोस्टर में सीएम नीतीश को जगह दी गई.

वहीं पोस्टर से सीएम नीतीश कुमार का नाम गायब रहने पर मंत्री नितिन नवीन ने कहा कि जब कोई कार्ड छपता है जो इस कार्यक्रम में शामिल होंगे उनको निश्चित रूप से निमंत्रण रहता है. जब पहले ही उन्होंने अपनी असमर्थता जता दी तो निश्वित रूप से कार्ड में उसका नाम नहीं होगा. वहीं इसको लेकर सवाल उठा रहे विपक्ष पर उन्होंने जमकर निशाना साधा है. नितिन नवीन ने कहा कि जो रात में सोते हैं और सुबह उठते ही उनको ऐसा लगता है कि आज फिर मेरी सरकार बन जाएगी. उनके सपने साकार नहीं होने वाले हैं. रात में सोने से और ड्राइंग रूम में बयानबाजी से सरकार नहीं बनती है.

बता दें कि शाहाबाद और पूर्वांचल समेत अन्य जिलों और राज्यों को बिहार की राजधानी पटना से जोड़नेवाला नया कोइलवर सिक्सलेन पुल का केंद्रीय सड़क एवं परिवहन राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने आज उद्घाटन किया. नितिन गडकरी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोईलवर में नये सिक्स लेन पुल के दूसरे लेन का उद्घाटन किया. उद्घाटन के दौरान स्थानीय सांसद और ऊर्जा मंत्री आरके सिंह, मंत्री नितिन नवीन समेत कई मौजूद रहे. कोईलवर के पुराने अब्दुल बारी पुल के समानांतर बने 1.5280 किलोमीटर के छह लेन के पुल के डाउनस्ट्रीम के तीन लेन का निर्माण 266 करोड़ की लागत से हुआ है.