BREAKING: ट्रक पासिंग के धंधे में संलिप्त 7 लाख 64 हजार रुपये के साथ धंधेबाज गिरफ्तार, सहार थानाध्यक्ष की पाई गई संलिप्तता, FIR दर्ज

लाइव सिटीज, आरा/ पुष्कर: बालू लदे ट्रक को पास कराने के खेल में माहिर एक धंधेबाज अशोक यादव गिरफ्तार किया गया है। एसपी राकेश दुबे के निर्देश पर डीआयू की टीम ने अरवल पुलिस के सहयोग से छापेमारी कर उसे धर दबोचा। पुलिस की जांच पड़ताल कई दिनों से चलती रही। इस दौरान जब ट्रक पासिंग कराने के धंधे में अशोक के साथ सहार के थानाध्यक्ष आनंद कुमार की भी संलिप्तता सामने आई है। पुलिस की टीम ने थाना अध्यक्ष आनंद कुमार को भी ढूंढना शुरू कर दिया। लेकिन इससे पहले कि वह भी पुलिस के हाथ लगता मौका देख फरार हो गया। इस दौरान अशोक यादव के घर से पुलिस ने अवैध रूप से इकट्ठा किए गए 7 लाख 64 हजार रुपये भी बरामद किए।

एसपी राकेश दुबे ने एक प्रेस वार्ता किया। प्रेस वार्ता के दौरान उन्होंने कहा कि अशोक कुमार यादव के विरुद्ध काफी पहले से शिकायत मिल रही थी।आवेदन की जांच के लिए एक टीम का गठन किया गया। जिसमें पुलिस निरीक्षक शशि शेखर चौधरी, अंचल निरीक्षक सदर डीआई यू के, दरोगा अवधेश कुमार, सुदेश कुमार एवं डीआईओ के अन्य सिपाही तथा थाना की गश्ती दल के साथ जांच पड़ताल शुरू की गई ।सहार थाना क्षेत्र के खैरा मोड़ के आसपास स्कूल और गुप्त रूप से आवेदन में लगाए गए ।विभिन्न आरोपों की जांच की गई ।

एसपी ने कहा कि इस क्रम में ग्रामीणों से पूछताछ से यह पता चला कि प्रत्येक दिन स्थानीय पुलिस के साथ प्राइवेट दलाल के माध्यम से छुपकर चेकिंग के आड़ में संलिप्त है। स्थानीय थाना द्वारा बालू लदे ट्रक से अवैध रूप से रुपए वसूली की जाती रही है। स्थानीय ग्रामीणों को विश्वास में लेकर पूछने पर यह पता चला कि मुख्य रूप से अशोक कुमार के संपर्क में है। जो अस्थाई रूप सहार थाना क्षेत्र के मुजफ्फरपुर गांव का रहने वाला है, जो सहार थानाध्यक्ष आनंद कुमार के सीधे संपर्क में है। उसके द्वारा बालू लदे ट्रक चालकों को पैसा नहीं देने पर डरायाा जाता है। उसे डर दिखाकर एवं धमकी देकर अवैध रूप से वसूली की जाती थी। जिसमें एक हिस्सा सहार थानाध्यक्ष को दिया जाता था। जांच में पता लगा कि आवेदक मोबाइल का नंबर 870 9496 552 का उपयोग कर फोन करने वाले व्यक्ति उपरोक्त अशोक कुमार ही है।