दवा कारोबारी के बेटे की पीट-पीट कर हत्या, सोमवार को किडनैप कर 10 लाख मांगा था

लाइव सिटीज, मोतिहारी : पूर्वी चंपारण जिले में एक व्यवसायी के बेटे के अपहरण के बाद पीट-पीट कर हत्या करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है. घटना डुमरियाघाट थानाक्षेत्र के रामपुर खजुरिया चौक के पास से एक दवा व्यवसायी के बेटे के अपहरण की है. बताया जा रहा है कि सोमवार को बच्चे की हत्या बैट से मारकर करने के बाद पास के ही एक निजी विद्यालय के समीप फेंक दिया गया था और फिर व्यवसायी को फोन कर दस लाख की फिरौती मांगी गई थी.

व्यवसायी पुत्र के हत्या की बात मंगलवार की देर रात खुली है. लेकिन, इससे पहले अपहरण से नाराज व्यवसायियों ने आज मंगलवार दिन में घटना के विरोध में खजुरिया चौक की दुकानें बंद कर दी और स्टेट हाई-वे-74 को जाम कर दिया था. नाराज लोगों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस को घटना के बाद सोमवार की रात ही सूचना दी गई. लेकिन, पुलिस अगले दिन भी काफी देर बाद सक्रिय हुई.

इस बीच घटना की सूचना मिलने के बाद डुमरियाघाट पहुंचे एसपी उपेंद्र कुमार शर्मा ने पुलिस की अलग-अलग टीमों को गोपालगंज, सिवान और मुजफ्फरपुर भेजा. साथ ही स्थानीय स्तर पर एक टीम को छापे में लगाया.

इसी दौरान रामपुर खजुरिया पंचायत की पूर्व मुखिया के पति बच्चा गिरि, पुत्र सुजीत कुमार व उसके साथी सिवान जिले के चंचल कुमार को गिरफ्तार किया गया. सुजीत के पास से फिरौती में प्रयुक्त सेल फोन व सिमकार्ड जब्त किया गया है. पूछताछ के बाद पुलिस ने बच्चे का शव बरामद किया. शेष लोगों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी चल रही है.

रामपुर खजुरिया पंचायत निवासी पूर्व पंचायत समिति सदस्य राजकिशोर साह का पुत्र ज्ञान प्रकाश कुमार गुप्ता उर्फ प्रिंस कुमार स्थानीय राजकीय मध्य विद्यालय में तीसरी कक्षा का छात्र था. सोमवार की शाम विद्यालय से वापस लौटकर वह घर से बाहर खेलने गया था. लेकिन, तय समय एक घंटे के बाद तक घर नहीं लौटा. परिजनों ने काफी देर तक उसकी तालाश की. जब वह नहीं मिला तो परिजनों ने बच्चे के गायब होने की जानकारी रात में स्थानीय थाना को दी. मंगलवार को थाना में आवेदन देकर व्यवसायी ने पुलिस से अपने पुत्र के सकुशल रिहाई की गुहार लगाई थी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*