बिहार पंचायत चुनाव 2021 : पटना में हथियार के साथ चुनाव प्रचार करना महंगा पड़ा मुखिया सर्मथकों को, तीन गिरफ्तार

लाइव सिटीज, पटना : बिहार पंचायत चुनाव 2021 के लिए एक मुखिया प्रत्याशी के समर्थकों को हथियार लहराते हुए चुनाव प्रचार करना महंगा पड़ गया है. उनकी गिरफ्तारी हो गई है. यह पूरा मामला पटना जिले के विक्रम अंचल से जुड़ा हुआ है. पुलिस के अनुसार, मुखिया प्रत्याशी व उनके समर्थकों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है. मुखिया प्रत्याशी फरार है.

दरअसल, पटना से सटे विक्रम थाना क्षेत्र अंतर्गत नगहर पंचायत के मुखिया प्रत्याशी धनंजय सिंह उर्फ कालू सिंह के समर्थन में आज तीन लोग विक्रम के बगहा कॉल गांव में हथियार के साथ चुनाव प्रचार कर रहे थे. स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना अंचलाधिकारी को दे दी. अंचलाधिकारी के निर्देश पर विक्रम थाने की पुलिस ने 3 लोगों को भारी मात्रा में हथियार के साथ गिरफ्तार कर लिया है.

गिरफ्तार लोगों में सुभाष राय, रणधीर कुमार और जितेंद्र शर्मा शामिल हैं. पुलिस ने इनके पास से दो राइफल और 25 गोलियां बरामद की है. सुभाष राय आर्मी से रिटायर्ड है और वह मुखिया प्रत्याशी धनंजय सिंह का बॉडीगार्ड है. पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कराई है. इसमें मुखिया प्रत्याशी को भी नामजद अभियुक्त बनाया है. हालांकि, मुखिया प्रत्याशी धनंजय सिंह फरार हैं. थाना प्रभारी धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि छानबीन में यह बात सामने आई है कि जब्त की गई राइफल और गोलियां लाइसेंसी हैं. मुखिया प्रत्याशी धनंजय सिंह सहित उनके समर्थकों पर विक्रम थाने में आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज किया गया है.’