मुजफ्फरपुर महापाप : मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा को किसी भी समय बुला सकती है CBI

manju-brajesh-collage

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : नीतीश सरकार की काफी किरकिरी होने के बाद आखिर मंत्री मंजू वर्मा ने इस्तीफा दे दिया. मुजफ्फरपुर बालिका गृह के मामले में मंत्री मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा पर गंभीर आरोप लगे थे. बाद में यह भी खुलासा हुआ कि चंद्रशेखर वर्मा ने आरोपी ब्रजेश ठाकुर से फोन पर कई दफे बात की. अब सूत्रों की मानें तो यह खबर आ रही है कि किसी भी समय मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा को सीबीआई पूछताछ के लिए बुला सकती है.

बिहार की सियासत में बुधवार को बदलते घटनाक्रम में नीतीश सरकार में शामिल समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा ने इस्तीफा दे दिया. लाइव सिटीज ने मंगलवार को अपने बुलेटिन में कहा था कि मंजू वर्मा को इस्तीफा देना ही होगा. इसे लेकर नीतीश कुमार की भी काफी किरकिरी हो रही थी. इसके 24 घंटे के अंदर तेजी से सियासत का परिदृश्य बदला और बुधवार की शाम में मंजू वर्मा को अपनी कुर्सी गंवानी पड़ी. लेकिन जाते—जाते उन्होंने यह भी कहा कि मैंने नीतीश कुमार के कहने पर इस्तीफा नहीं दिया हूं. विपक्ष के हाय—तौबा मचाने पर यह फैसला लिया हूं.

लेकिन इधर नये घटनाक्रम में अब मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा की मुश्किलें बढ़ गयी हैं. सूत्रों की मानें तो सीबीआई किसी भी समय चंद्रशेखर वर्मा को पूछताछ के लिए बुला सकती है. मीडिया में आ रही चर्चा को मानें तो सीबीआई समन के लिए प्रक्रिया शुरू भी कर दी है. हालांकि इसकी पुष्टि किसी अधिकारी ने नहीं की है. कहा जा रहा है कि समन मिलने के बाद चंद्रशेखर वर्मा को हर हाल में सामने आना होगा.

बता दें कि सबसे पहले इस मामले में गिरफ्तार सीपीओ रवि रौशन की पत्नी शिभा कुमारी ने मंजू वर्मा के पति पर आरोप लगाया था कि वे ब्रजेश ठाकुर बालिका गृह में बराबर आते थे. इसके बाद से यह मामला सियासी हो गया और मंत्री के इस्तीफे की मांग उठने लगी. इसके बाद यह खुलासा हुआ कि मंजू वर्मा के पति कुल 17 बार इस कांड के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर से फोन पर बातें की थीं. इस बात का खुलासा होते ही मामला और भी बिगड़ गया. लगातार हो रही किरकिरी के बाद मंत्री मंजू वर्मा ने बुधवार को अपना इस्तीफा सौंप दिया और प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह भी कहा कि मेरे पति निर्दोष हैं.

बहरहाल अब मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा की तलाश तेज हो गयी है. आरोप लगने के बाद से ही वे गायब हैं. माना जा रहा है कि चंद्रशेखर वर्मा से पूछताछ के बाद मुजफ्फरपुर बालिका कांड के कई बड़े रहस्य उजागर हो सकते हैं. कहां—कहां इसके तार जुड़े हैं, इसका भी खुलासा हो सकता है.