बालिका गृह मामला : दिन भर जांच के बाद CBI ने ब्रजेश ठाकुर के बेटे को लिया हिरासत में

MUZAFFARPUR11
मुजफ्फरपुर बालिका गृह (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : मुजफ्फरपुर बालिका गृह के मामले में बड़ी खबर है. बालिका गृह मामले की जांच कर रही सीबीआई की टीम ने मुख्य आरोपी बृजेश ठाकुर के बेटे राहुल आनंद को हिरासत में ले लिया है. सीबीआई की टीम ने राहुल को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है. आज शनिवार 11 अगस्त को सीबीआई की टीम दिनभर बालिका गृह कंपाउंड की जांच करती रही. सीबीआई ने इस दौरान कई दस्तावेज भी जब्त किए हैं, जिन पर राहुल आनंद से हस्ताक्षर करा कर उन्हें सील कर दिया गया है. इन सभी सील डाक्यूमेंट्स को भी सीबीआई की टीम अपने साथ ले गई है.

इससे पहले सीबीआई की टीम आज शनिवार को एफएसएल की टीम और छोटी जेसीबी मशीन के साथ बालिका गृह पहुंची थी. सीबीआई ने पहले ब्रजेश ठाकुर के बेटे राहुल आनंद को फोन कर बालिका गृह कंपाउंड में बुलाया था. सीबीआई ने इस दौरान बालिका गृह के उन कमरों की भी जांच की है, जहां नाबालिक लड़कियां रहती थी. सीबीआई की टीम का बालिका ग्रह कंपाउंड का यह पहला दौरा है.

प्रिया राज : आंख नहीं मारती, ब्रजेश ठाकुर को कालिख पोत देती है, पप्‍पू यादव की सुतली बम है

इस मामले में आज एक और बड़ी खबर है कि मुजफ्फरपुर जेल में बृजेश ठाकुर के पास से पुलिस ने कई सामान बरामद किए हैं. इस दौरान पुलिस ने बृजेश ठाकुर से एक डायरी भी जब्त की है. इस डायरी में कई नेताओं और अफसरों के मोबाइल नंबर दर्ज बताए जा रहे हैं. सीबीआई अभी बालिका गृह मामले में बृजेश ठाकुर पर FIR दर्ज करने की प्रक्रिया कर रही है.

ब्रजेश ठाकुर को रिमांड पर लेने की तैयारी

बिहार सरकार के समाज कल्याण विभाग द्वारा फंड प्राप्त इस बालिका गृह का संचालन ब्रजेश ठाकुर के एनजीओ ‘सेवा संकल्प एवं विकास समिति’ के जिम्मे था. साहू रोड स्थित इसी कैंपस में ब्रजेश ठाकुर का घर और उसका प्रिंटिंग प्रेस भी है. फिलहाल उसके परिवार के सारे लोग इस कैंपस को छोड़ चुके हैं. सीबीआई मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को रिमांड पर लेने की तैयारी भी कर रही है. रिमांड के लिए अदालत में आवेदन देने से पहले सीबीआई ने ब्रजेश ठाकुर की मेडिकल रिपोर्ट अपने पास मंगवाई है. जांच एजेंसी को पेशी के दौरान हंसते ब्रजेश ठाकुर के बीमार होने पर भी शक है.

सीबीआई सूत्रों के मुताबिक बहुत जल्द ही मुजफ्फरपुर लोकल कोर्ट में रिमांड के लिए जरूरी दस्तावेज जमा कराया जाएगा. बालिका गृह रेप केस सामने आने के बाद ब्रजेश ठाकुर को मुजफ्फरपुर पुलिस ने 3 जून को गिरफ्तार किया था. इसके बाद महज 5 दिन ही जेल के वार्ड में रहकर वह अस्पताल में भर्ती हो गया. इस मामले में बालिका गृह का संचालन कर रहे ठाकुर के एनजीओ की सात महिलाकर्मियों समेत कुल 10 लोग गिरफ्तार किए गए थे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*