अपना ‘बंगला’ बचाने में जुटे चिराग, राजू तिवारी को बनाया कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष तो संजय पासवान बने पार्टी के प्रधान महासचिव

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : अपने बिखरते हुए ‘बंगले’ को बचाने को लेकर चिराग (Chirag Paswan) एक्शन में आ गए हैं. पार्टी संगठन में बड़ फेरबदल किया गया है. संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष राजू तिवारी (Raju Tiwari) और संजय पासवान (Sanjay Paswan) को बड़ी जिम्मेवारी दी गयी है. राजू तिवारी को कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है. वहीं पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय पासवान को प्रधान महासचिव की जिम्मेवारी दी गयी.

राजू तिवारी लोजपा संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष थे.अब उन्हें पार्टी ने कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष पद दिया गया है. जबकि संजय पासवान पार्टी में वरिष्ठ प्रदेश उपाध्यक्ष पद पर काम कर चुके है. दोनों चिराग पासवान के बेहद क़रीबी माने जाते हैं. लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने व पार्टी के प्रधान महासचिव के अबुल खालिक व प्रिन्स राज जी के मौजूदगी में दोनों को नई दिल्ली स्थित 12 जनपथ आवास पर नियुक्ति पत्र दिया गया.

प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष बनाए जाने पर राजू तिवारी ने चिराग पासवान को धन्यवाद देते हुए कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष ने उन्हें बहुत बड़ी जिम्मेवारी दी है. वो इस जिम्मेवारी को बखूबी निभाने की भरपूर कोशिश करेंगे. लाइव सिटीज से बात करते हुए उन्होंने कहा कि पार्टी को जमीनी स्तर पर मजबूत करने का काम किया जाएगा. हमारी पार्टी का स्टैण्ड कल भी साफ था आज भी क्लियर है. इसमें रोज रोज बदलाव नहीं किया जा सकता है.

जेडीयू के साथ बिगड़ते रिश्ते पर राजू तिवारी ने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव में लोजपा को कम आंकने की कोशिश की गयी. अपेक्षा अनुरूप सीटें नहीं मिली जिस कारण पार्टी को यह निर्णय लेना पड़ा. जिसका परिणाम सभी के सामने हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से हमारे पार्टी अध्यक्ष के कोई व्यक्तिगत दुश्मनी नहीं है. राजनीतिक मतभेद है मनभेद नहीं है. राजनीति में कब क्या हो जाए यह कहा नहीं जा सकता है.

वहीं बीजेपी के साथ अपने रिश्ते पर सफाई देते हुए कहा कि केन्द्र सरकार में लोजपा एक सहयोगी की भूमिका में है. इसमें किसी को शक नहीं होना चाहिए. हाल ही में एनडीए की बैठक में हमारे पार्टी अध्यक्ष को बुलावा आया था, लेकिन तबीयत ठीक नहीं होने के कारण वो शामिल नहीं हो सके.