सीएम नीतीश ने अंजुम आरा के लिए मांगा वोट, कहा- ये पार्टी की नहीं बल्कि आप सभी की उम्मीदवार हैं

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क:  बिहार के मुखिया नीतीश कुमार इन दिनों चुनावी सभा में सक्रिय दिख रहे हैं. सीएम आज यानी रविवार को फिर से 2 जिलों के चार विधानसभा क्षेत्रों में दौरा कर रहे हैं साथ ही एनडीए के प्रत्याशी के लिए वोट मांग रहे हैं.

बक्सर विधानसभा क्षेत्र में एनडीए प्रत्याशी के लिए प्रचार करने के बाद सीएम नीतीश कुमार डुमरांव विधानसभा पहुंचे. यहां उन्होंने नावानगर के उच्च विद्यालय मैदान से जेडीयू प्रत्याशी अंजुम आरा के लिए वोट मांगा. इस दौरान सभा में सीएम के साथ डिप्टी सीएम सुशील मोदी, जल संसाधन मंत्री संजय झा सहित तमाम एनडीए के नेता मौजूद थे.



नीतीश कुमार ने कहा कि अंजुम आरा सिर्फ हमारी ही नहीं बल्कि आप सभी की उम्मीदवार हैं. जिस तरह से उन्होंने काम किया है, वो एक प्रवक्ता होने के साथ-साथ सामाजिक कार्यकर्ता भी हैं. उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र का विकास करने के लिए अंजुम आरा जी ने काफी अच्छा काम किया है. अब ये आपकी जिम्मेदारी है कि उन्हें भारी संख्या में वोट देकर अपने क्षेत्र का विकास करने का मौका दें.  

अपने संबोधन के शुरुआत में ही सीएम नीतीश कुमार ने विपक्षी पार्टियों को आड़े हाथों लिया. उन्होंने कहा कि बिहार में पहले क्या स्थिति थी. अपहरण कितना होता था? लोग शाम के बाद घर से निकले में डरते थे. उन्होंने कहा कि आज कल के लोग कुछ भी बोल देते हैं. पति-पत्नी की सरकार में क्या-क्या नहीं हुआ?  सीएम ने कहा कि लालू यादव का नाम लिए बगैर कहा कि अब वो तो अंदर हैं. अब देखते जाइए, जिस तरह के उन लोगों ने काम किया है. अभी अंदर ही रहेंगे. लेकिन बाल-बच्चा को बोलने में क्या जाता है, कुछ भी बोल देते हैं.

नीतीश कुमार ने कहा कि लोग भूल गए कि पहले बिहार के कितने लोग डर से राज्य छोड़कर भाग गए थे. उन्होंने तेजस्वी यादव का नाम लिए बिना कहा कि कुछ लोग कहते हैं कि बाहर हमारे लोग हैं. जरा बताइए कि प्रवासी क्या होता है? देश एक है. जिसे जहां मन होता है वह वहां जाता है. कोई अगर दूसरे राज्य में काम करना चहता है, वो उसकी अपनी इच्छा है और वह प्रवासी नहीं है. नीतीश कुमार ने कहा कि बिहारियों को ले जाने के लिए अब तो पंजाब से लोग आ रहे हैं. हां लेकिन हमारा संकल्प है कि हम ऐसा काम करेंगे ताकी कोई मजबूरी में बिहार से बाहर जाकर काम नहीं करें.