तस्वीरें : CM नीतीश पहुंचे बाललीला गुरुद्वारा, 200 श्रद्धालुओं को परोसा प्रसाद, खुद भी लंगर छका

पटना सिटी (जुलकर नैन) : राजधानी में आगामी 23 दिसंबर से शुरू होने वाले 350वें शुकराना समारोह सह 351वें प्रकाश पर्व को लेकर सीएम नीतीश कुमार ने आज पटना सिटी में बाललीला गुरुद्वारा का दौरा किया. इस दौरान भूरी वाले बाबा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का स्वागत किया.



उसके बाद मुख्यमंत्री सहित जदयू नेता संजय झा एवं कश्मीरा सिंह भूरी वाले बाबा के साथ बाललीला गुरुद्वारा के दीवान हॉल में गए, जहां सीएम ने गुरुग्रंथ साहिब के सामने मत्था टेका. कश्मीरा सिंह भूरी वाले बाबा एवं बाबा गुरेन्द्र् पाल सिंह ने मुख्यमंत्री को सरोपा और शॉल ओढ़ा कर और तलवार देकर सम्मानित किया.

इस मौके पर गुरुद्वारा बाललीला के सरदार राजा सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि मुख्यमंत्री जी ने पिछले वर्ष इतना भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया. पूरे सिख समाज के लोग मुख्यमंत्री के ऋणी हैं. बिहार के लोगों द्वारा किये गए आदर सत्कार को हम कभी भी नही भूल सकते हैं.

फिर नीतीश कुमार और कश्मीरा सिंह भूरी वाले बाबा भव्य लंगर हॉल के तरफ बढ़े, जहां बाबा ने अरदास किया. अरदास की समाप्ति के बाद मुख्यमंत्री ने प्रसादा (रोटी) की टोकरी उठाई और फिर लग गए लंगर हॉल में बैठे हुए श्रद्धालुओं को परोसने. करीब 200 श्रद्धालुओं को नीतीश कुमार ने प्रसादा (रोटी) परोसा.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, पूर्व विधान पार्षद महासचिव संजय झा और भूरी वाले बाबा, अंजनी सिंह ने साथ में बैठ कर लंगर छका. सीएम ने लंगर में मिस्सी रोटी, पनीर की सब्जी, आलू मटर की सब्जी, गुलाब जामुन, बालूशाही, खीर, पकौड़ी और चटनी खाई.

लंगर छकने के बाद सीएम राज माता विशंभरा देवी जी भवन में जा कर करीब 15 मिनट तक बैठे. वहाँ भूरी वाले बाबा के साथ बैठ कर कॉफी पिया. बाहर निकलते समय सीएम ने बाललीला गुरुद्वारा में लगे लाइटिंग की तारीफ़ की तो लगे हाथ बाबा ने पटना साहिब में हरियाली करने की इच्छा जाहिर कर दी.

इस दौरान मुख्यमंत्री के साथ प्रमंडलीय आयुक्त आनंद किशोर, पर्यटन विभाग के प्रधान सचिव पंकज कुमार, नगर विकास एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव चैतन्य प्रसाद, पटना के डीएम संजय अग्रवाल, नगर निगम आयुक्त अभिषेक सिंह, पटना सिटी अनुमंडल पदाधिकारी राजेश रौशन, पटना सिटी एएसपी हरिमोहन शुक्ला, पटना महानगर जदयू प्रवक्ता अनंत अरोड़ा, अजय सिंह सहित कई लोग उपस्थित थे.