लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : मुजफ्फरपुर में इसी माह सात दिसंबर को दुष्कर्म के असफल प्रयास के बाद जलाई गई लड़की की हालत नाजुक बनी हुई है. पटना के एक बर्न हॉस्पिटल में इलाजरत छात्रा ने शनिवार शाम से कुछ बोलना भी बंद कर दिया. तुरंत परिजनों ने विशेषज्ञ डॉक्टरों को सूचित किया उसे जीवन रक्षक दवाएं दी जा रही है.

डॉक्टरों ने बताया कि शनिवार की शाम उसका पल्स भी लगभग बंद हो गया था लेकिन कुछ देर के बाद दोबारा पर चलने लगा. छात्रा के भाई और अन्य परिजनों के मुताबिक हॉस्पिटल ने उनसे लिखित में लिया है कि वे लोग किसी प्रकार का हंगामा ना करेंगे. अस्पताल के मुताबिक पीडिता के लिए आगे का 1 – 2 दिन काफी मुश्किलों से भरा होगा.

घटना के बाद पीडिता को एसकेएमसीएच से रेफर कर दिया गया था. कड़ी पुलिस सुरक्षा में उसे मंगलवार को पटना में भर्ती कराया गया था. उसके बाद कांड की आईओ ने पटना पहुंच पीड़िता का बयान भी लिया था. घटना की पूरी जानकारी देते हुए उसने आरोपित राजा राय को फांसी देने की मांग की थी.

हॉस्पिटल के मुख्य कंसल्टेंट का कहना है कि अगर लड़की को और पहले अस्पताल में लाया जाता तो, उसकी स्थिति और बेहतर होती. जलने के तीन दिनों के बाद यहां लाया गया है. अस्पताल प्रशासन उसे बचाने का हरसंभव प्रयास कर रहा है. लेकिन उसकी स्थिति अत्यंत नाजुक बनी हुई है. उसके शरीर का अधिकांश हिस्सा जल चुका है. जिससे उसे काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

‘मैं रहूं न रहूं, दोषियों को सजा जरूर मिले

राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष दिलमणि मिश्र ने मंगलवार को जब अस्पताल में भर्ती पीड़िता से मुलाकात की तो उसने अपना दर्द बयां किया. कहा कि ‘मैं रहूं न रहूं, दोषियों को सजा जरूर मिले. सजा ऐसी मिले कि कोई फिर इस तरह का दुस्साहस करने की हिम्मत न करे.’

कई बार पुलिस से की थी शिकायत

पीड़िता ने अपनी आपबीती बताते हुए कहा कि इस घटना से पहले उसने कई बार उस लड़के के खिलाफ पुलिस से और लड़के के माता-पिता से शिकायत की थी, लेकिन किसी ने भी कोई कार्रवाई नहीं की. इस कारण उसके साथ यह घटना हुई है. उसने अध्यक्ष से हाथ जोड़ते हुए कहा ‘मेरे दोषियों को बिल्कुल भी नहीं छोड़ा जाए’. मुलाकात के बाद महिला आयोग की अध्यक्ष ने कहा कि उनकी पूरी कोशिश होगी कि दोषी को सजा मिले और उसे इंसाफ भी मिल सके.

ये भी पढ़ें : मुजफ्फरपुर में विचाराधीन कैदी की मौत, छेड़खानी के मामले में जेल में था बंद

ये भी पढ़ें : मुजफ्फरपुर बालिका गृहकांड में आज फैसला नहीं, छुट्टी पर हैं एडिशनल सेशन जज