बाढ़ में डूबा बेलसंड- शिवहर के पूर्व कांग्रेस विधायक का घर, तिरपाल लगाकर दिन काट रहे हैं

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार में आई बाढ़ में कई घर तबाह हो गए हैं. लोगों को नाव का सहारा लेना पड़ रहा है. कईयों के तो घर डूब चुके हैं और लोग सड़क किनारे रहने को विवश हैं. इन्हीं में से एक हैं बेलसंड- शिवहर के पूर्व कांग्रेस विधायक चुल्हाई दुसाध.

पूर्व एमएलए का परिवार बीते 10 साल से बांध पर तिरपाल गिराकर रहने को मजबूर है. मीनापुर प्रखंड की हरशेर पंचायत के गंगबरार गांव में खपरैल घर बूढ़ी गंडक नदी में बह गया तो चुल्हाई दुसाध ने बथान को घर बनाया था. वर्ष-दर-वर्ष बूढ़ी गंडक पश्चिम में कटाव करती गई और पूर्व विधायक का परिवार मुश्किलों से जूझता गया.



चुल्हाई हजारे के निधन के बाद परिवार फटेहाली के दौर से गुजरने लगा. उनकी पत्नी का पेंशन तक बंद है. जिसपर बिहार सरकार कोई नज़र नहीं डालता. अपनी मां को पेंशन दिलाने के लिए चिंताहरण पासवान मुजफ्फरपुर से पटना कई सालों तक दौड़े. लेकिन आज तक सरकार की ओर से उनकी मां को पेंशन नहीं मिला.

चुल्हाई दुसाध उर्फ चुल्हाई हजारे आजादी के बाद पहले बिहार विधानसभा चुनाव में बेलसंड-शिवहर संयुक्त निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस टिकट पर निर्वाचित हुए थे.